कला और संस्कृतिजरुर पढेंदेशपर्यावरणसमाज

कभी नहीं से देर भली

Share Article

प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह ने कहा है कि वन और पर्यावरण मंत्रालय के अंतर्गत वन एवं वन्य जीवों और पर्यावरण मामलों के लिए अलग-अलग विभाग होंगे. मौजूदा व्यवस्था में पर्यावरण मंत्रालय के अधीन वन्यजीवों के लिए एक अलग शाखा है, जिसके मुखिया पर्यावरण सचिव विजय शर्मा हैं. हाल के दिनों में पन्ना और रणथंभौर बाघ अभयारण्यों में बाघों की लगातार घटती संख्या के मद्देनज़र काफी शोरशराबा हुआ है. संभव है, प्रधानमंत्री का यह फैसला इसी परिप्रेक्ष्य में लिया गया हो. वेटलैंड्‌स के रखरखाव और उस पर निगरानी रखने के लिए नई नीति बनाई गई है और संरक्षित क्षेत्रों में माइनिंग पर रोक लगाने की दिशा में भी कार्ययोजना बनाई जा रही है. अगला नंबर कहीं जंगलों के समीप रहने वाले लोगों के लिए नौकरियों के मुद्दे का तो नहीं है!

दिलीप चेरियन Contributor|User role
Sorry! The Author has not filled his profile.
×
दिलीप चेरियन Contributor|User role
Sorry! The Author has not filled his profile.

You May also Like

Share Article

Comment here