कम सोना सेहत के लिए खतरनाक

कहते हैं, अति सर्वत्र वर्ज्यते. मतलब यह कि कोई भी काम अधिक नहीं करना चाहिए. नहीं तो, शरीर पर इसका विपरीत प्रभाव पड़ता है. इसलिए कोई भी काम सीमा के अंदर ही करें. जिसका फायदा आपको हमेशा मिलता रहेगा. इससे जुड़ा एक मामला सामने आया है कि अधिक सोना ख़तरनाक है और कम सोना भी.

अगर आप रोज़ छह घंटे से कम सोते हैं तो आपकी जान को ख़तरा है. ब्रिटेन एवं इटली के वैज्ञानिकों का कहना है कि जो लोग कम सोते हैं, उनकी सामान्य नींद लेने वालों की तुलना में 25 साल पहले ही मौत हो जाने का ख़तरा 12 फ़ीसदी अधिक होता है. हालांकि अधिक सोना कमज़ोर स्वास्थ्य का प्रतीक हो सकता है और इसका लोगों के जीवन पर प्रतिकूल प्रभाव पड़ता है. इस अध्ययन के नतीजे स्लीप जर्नल में प्रकाशित किए गए हैं. शोध में पंद्रह लाख लोगों को शामिल किया गया था. ब्रिटेन, अमेरिका, यूरोप और पूर्वी एशियाई देशों में किए गए अध्ययनों की तुलना करते हुए इसमें नींद और मौत के बीच के संबंधों को देखा गया है.

ब्रिटेन एवं इटली के शोधकर्ताओं का कहना है कि कम सोना ख़राब स्वास्थ्य का प्रमुख कारण बन सकता है. अंतत: यह समय पूर्व मौत का कारण भी बन सकता है, जबकि अधिक सोना ख़राब स्वास्थ्य की निशानी पहले से ही मानी जाती है. ब्रिटेन के वारिक विश्वविद्यालय के नींद, स्वास्थ्य एवं सामाजिक कार्यक्रम विभाग के प्रोफेसर फ्रांसिस्को कैप्रूचिओ कहते हैं, आधुनिक समाज के लोगों की औसत नींद में लगातार कमी देखी जा रही है, यह पूर्णकालिक काम करने वाले लोगों में एक सामान्य सी बात है. वहीं दूसरी ओर हमारे स्वास्थ्य में गिरावट अक्सर सोने के समय में बढ़ोत्तरी से जुड़ी होती है. यदि सोने में कमी और मौत के बीच संबंध सही है तो इसे ब्रिटेन में 16 साल तक के 63 लाख लोगों की मौतों से जोड़ा जा सकता है.

उन्होंने कहा कि इस मसले को सही ढंग से समझने के लिए अभी और अध्ययन करने की ज़रूरत है. लाफब्रूग के नींद शोध केंद्र के प्रोफेसर जिम हार्ने कहते हैं कि नींद के अलावा भी समय से पहले मौत के  कई और कारण हो सकते हैं. वह कहते हैं कि मानसिक और शारीरिक स्वास्थ्य के लिए नींद लिटमस पेपर है. नींद पर बीमारियों और अवसाद जैसी परिस्थितियों का भी प्रभाव पड़ता है. उन्होंने कहा कि नींद के  घंटे बढ़ने से किसी व्यक्ति का स्वास्थ्य बेहतर नहीं होता और वह अधिक समय तक नहीं जीता है, लेकिन एक रात में पांच घंटे से कम सोना शायद ठीक नहीं है.

You May also Like

Share Article

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *