जरुर पढें

ड्राइविंग का मज़ा हाथ से नहीं, आंख से

Share Article

अब आपको कार चलाने के लिए हाथों का उपयोग नहीं करना पड़ेगा. क्यों चौंक गए न. जनाब चौंकने की जरूरत नहीं है. क्योंकि अब ऐसा ही होने वाला है. इस समय ड्राइविंग को आसान बनाने के लिए हर जगह होड़ मची है.

जर्मनी में बर्लिन की फ्री यूनिवर्सिटी की एक टीम ने ऐसी ही भावी कार के कंप्यूटर के लिए एक ऐसा सॉफ्टवेयर तैयार किया है, जो आंख की पुतलियों को देखते हुए कार को उसी दिशा में मोड़ता, जहां आप देख रहे होते हैं. 23 अप्रैल को बर्लिन के एक पुराने हवाई अड्डे पर पत्रकारों के सामने आईड्राइविंग नाम की इस प्रणाली का प्रदर्शन किया गया. परियोजना प्रमुख प्रोफेसर डॉ. राउल रोखास ने कहा कि कार में एक वीडियो कैमरा है, जो कार चालक की आंखों को देख रहा होता है. चालक दाहिने देख रहा है या बाएं, आंख की पुतलियों की हरकतों को पढ़ रहा कंप्यूटर उसे  जान जाता है.

कंप्यूटर कार इलैक्ट्रॉनिक प्रणाली से जुड़ा होता है और उसी के माध्यम से कार की स्टीयरिंग को आंखों की हरकतों के अनुसार नियंत्रित करता है. यदि आप सड़क पर हैं और सीधे सामने की ओर जाना चाहते हैं, तो सीधे सामने की ओर देखिए, कार चल पड़ेगी. यदि आप दाहिने मुड़ना चाहते हैं, तो दहिनी ओर देखें, कार दाहिनी ओर मुड़ जाएगी. तो, इस तरह सड़क पर अपनी नजर की दिशा के द्वारा आप कार को पूरी तरह नियंत्रित कर सकते हैं. केवल नुक्कड़ या चौराहे पर आप को अपनी आंख के सामने लगे वीडियो कैमरे को इशारा करना होगा कि आप कहां जाना चाहते हैं. लेकिन यह भी तो हो सकता है कि किसी बात से आप का ध्यान बंट गया, आप किसी और दिशा में देखने लगें, तब भी दुर्घटना नहीं होगी. कुछ लोगों ने कहा कि आपकी नजरें यदि किसी सुंदरी की तरफ फिसल गईं, तब? तब भी नहीं. कार यदि सेमी ऑटोमैटिक दशा में है तो वह यह भी जानती है कि सड़क यातायात के नियम-कानून क्या हैं, सड़क की सीमा कहॉं है. बर्लिन के प्रदर्शन के समय हमने दिखाया कि यदि कोई आदमी कार के सामने आ जाए, तो उसके सेंसर तुरंत जान जाते हैं कि रास्ते में कोई बाधा आ गई है और वे कार को तुरंत रोक देते हैं.

Sorry! The Author has not filled his profile.
×
Sorry! The Author has not filled his profile.

You May also Like

Share Article

Comment here