जरुर पढेंफिल्म

तकदीर और तदबीर

Share Article

सोनाक्षी सिन्हा अब सिल्वर स्क्रीन का जाना-माना चेहरा हैं. वह कहती हैं, सिनेमा में आने से मेरे निजी जीवन पर कोई खास फर्क़ नहीं पड़ा. मैं जैसी पहले थी, वैसी ही आज भी हूं. लाइफ स्टाइल में भी ज़्यादा फर्क़ नहीं आया है. लाइफ स्टाइल वही है, जिसमें अपने आप को सहज महसूस कर सकूं. चूंकि अब मैं ग्लैमर वर्ल्ड से जुड़ चुकी हूं, इसलिए मेरा अपने लुक को लेकर खास ध्यान है. मैं ख़ुद पर नए-नए स्टाइल्स अपनाने की कोशिश करती रहती हूं और फिटनेस पर ज़्यादा ध्यान दे रही हूं. अपना वजन कम करने की कोशिश कर रही हूं. इसके लिए योगा एवं डाइटिंग कर रही हूं. मैं जिम भी जाती हूं. दरअसल मुझे स्लिम-ट्रिम होने के लिए सबसे ज़्यादा सलमान ख़ान ने प्रोत्साहित किया. उन्होंने कहा कि तुम पतली हो जाओ, फिल्मों में तुम्हारा अच्छा स्कोप है. तब मैं फैशन डिज़ाइनिंग करती थी, उसके  बाद मैंने लैक्मे की मॉडलिंग भी की. कपड़ों के प्रति कोई खास पसंद नहीं है मेरी, मैं बस वह पहनना पसंद करती हूं, जो मुझ पर सूट करता है. मुझे रितु कुमार, मनीष मल्होत्रा एवं नीता लुल्ला द्वारा डिज़ाइन की गई ड्रेसेज पसंद हैं. कई बार मैं उनके डिज़ाइन किए कपड़े बहुत शौक से ख़रीदती हूं. मैं म्यूज़िक सुनती हूं, मुझे पुराने गाने सुनना बहुत पसंद है. इसके  अलावा फैशन से संबंधित क्रिएटिव काम करना पसंद करती हूं. मुझे डांस का शौक है, तेज म्यूज़िक लगाकर डांस भी करती हूं. खाली व़क्त में पसंदीदा लेखकों की किताबें पढ़ती हूं. जीवन से मैंने सीखा है कि तकदीर अगर हमारा साथ न दे तो तदबीर भी कुछ नहीं कर पाती.

Sorry! The Author has not filled his profile.
×
Sorry! The Author has not filled his profile.

You May also Like

Share Article

Comment here