विजय हुंकार भरने को सेना तैयार

बेगूसराय ज़िले में पहली बार हो रहे नगर निगम चुनाव की उल्टी गिनती शुरू हो गई है. पूर्व के नगर परिषद चुनाव में जीत हासिल करने के बाद मुख्य पार्षद पुष्पा शर्मा तथा उपमुख्य पार्षद जवाहर लाल भारद्वाज सहित कई दिग्गज वार्ड पार्षदों के द्वारा इस बार चुनाव न लड़ने तथा कई पंचायतों के नगर निगम में शामिल किए जाने के कारण मुखिया या मुखिया पति के चुनाव लड़ने से मुक़ाबला का़फी रोचक हो गया है.

मतदाताओं के अनुरोध पर चुनावी अखाड़े में कूदी सुनीता का न केवल वॉर्ड पार्षद बनना तय है, बल्कि मेयर बनाने के लिए कई जीत के दावेदार प्रत्याशी कमर कस चुके हैं.

ज़िलाधिकारी जितेंद्र श्रीवास्तव ने सभी प्रत्याशियों के साथ बैठक कर आचार संहिता के पालन की नसीहत देते हुए यह स्पष्ट कर दिया  कि अगर कोई भी प्रत्याशी मतदाताओं को लुभाने का प्रयास करते पकड़े गए तो अंजाम बेहद बुरा होगा. बेगूसराय नगर निगम के सभी 45 वॉर्डों की स्थिति पर अगर नज़र डाली जाऐ तो यह स्पष्ट दिखेगा कि महिला प्रत्याशी पुरूष प्रत्याशियों पर बेहद भारी पड़  रही हैं. अनुसूचित जाति के लिए आरक्षित वॉर्ड नंबर-1 में अवधेश कुमार देव, उपेंद्र चौधरी, किशोर कुमार पासवान, जितेंद्र मोची, प्रदीप राम, बंगाली पासवान, राम सकल पासवान, राजीव कुमार देव तथा रूशो सदा सहित कुल 17 उम्मीदवार भाग्य आज़मा रहे हैं. अनारक्षित वॉर्ड 2 से अनीता सिन्हा, कुंदन कुमार, धर्मेंद्र कुमार, पूनम सिन्हा, रामविलास सिंह सहित कुल 17 उम्मीदवार चुनावी अखाड़े में तलवार भांजने को तैयार हैं. पिछड़े वर्ग की महिला के लिए आरक्षित वॉर्ड नंबर 3 से गुलशन खातून, फूल कुमारी देवी, रंजू देवी तथा रिंकी देवी एक दूसरे से गुत्थमगुत्था करने के लिए तैयार बैठी हैं. अनुसूचित जाति के लिए आरक्षित वॉर्ड नंबर 6 से कृष्णदेव प्रसाद दास, गणेश पासवान, प्रतिभा देवी, मनोज पासवान सहित आठ प्रत्याशियों के बीच घमासान मचा हुआ है. अनारक्षित वॉर्ड 7 से अमरेंद्र कुमार सिंह, रामसागर चौधरी, पंकज कुमार सिंह, गुलशन खातून सहित कुल 30 प्रत्याशियों के बीच कांटे की टक्कर है. महिला के लिए आरिक्षत वॉर्ड नंबर 32 से सुनीता सोनी, शिवारानी अग्रवाल, सारिका भास्कर, किरण वर्मा सहित नौ उम्मीदवार तो भाग्य आज़मा रही हैं लेकिन मतदाताओं का कहना है कि स्वर्ण व्यवसायी विनोद कुमार सोनी की धर्मपत्नी सुनीता सोनी के जीतने की संभावना सबसे अधिक इसलिए है कि किसी भी पद पर न होने के बावजूद सोनी ने ग़रीबों के हक़ के लिए सदैव न केवल आवाज़ बुलंद की बल्कि ग़रीबों के सुख-दुख में कोई कमी नहीं छोड़ी. मतदाताओं के अनुरोध पर चुनावी अखाड़े में कूदी सुनीता का न केवल वॉर्ड पार्षद बनना तय है, बल्कि मेयर बनाने के लिए कई जीत के दावेदार प्रत्याशी कमर कस चुके हैं. इसी तरह वॉर्ड नंबर 33 से अनिता देवी, प्रकाश कुमार सिन्हा, राकेश कुमार चौधरी सहित चार, वॉर्ड नंबर 34 से ग्यारह, वॉर्ड नंबर 35 से आठ, वॉर्ड नंबर 36 से नौ, वॉर्ड नंबर 37 से बारह, वॉर्ड नंबर 38 से चौदह, वार्ड नंबर 39 से पांच, वॉर्ड नंबर 40 से छह, वॉर्ड नंबर 41 से 17, वार्ड नम्बर 42 से चौदह, वॉर्ड नंबर 43 से 17, वॉर्ड नबर 44 से ग्यारह तथा वॉर्ड नंबर 45 से नौ उम्मीदवार चुनावी अखाड़े में हैं. इस तरह लगभग सभी वॉर्डों के प्रत्याशी चुनावी दंगल में ताल ठोंकने के लिए अपनी-अपनी सेना के साथ तैयार हैं.

– नंदकिशोर दास

You May also Like

Share Article

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *