सर्वश्रेष्ठ पत्र लेखकों का सम्मान

चौथी दुनिया उर्दू में प्रकाशित होने वाले पत्रों में से हर सप्ताह एक सर्वश्रेष्ठ पत्र को पुरस्कृत किया जाता है. पुरस्कार के रूप में उक्त पत्र के लेखक को क़ौमी काउंसिल बराए फ़रोग उर्दू द्वारा एक हज़ार रुपये की पुस्तकें प्रदान की जाती हैं. पिछले दिनों चौथी दुनिया के कार्यालय में आयोजित पुरस्कार वितरण समारोह में काउंसिल के निदेशक डॉ. हमीदुल्ला भट, इंडिया इस्लामिक कल्चरल सेंटर के महासचिव एवं सुप्रीम कोर्ट के वरिष्ठ अधिवक्ता वसी अहमद नोमानी और चौथी दुनिया के प्रधान संपादक संतोष भारतीय ने संयुक्त रूप से सर्वश्रेष्ठ पत्र लेखकों को प्रशस्ति पत्र एवं पुस्तकें देकर सम्मानित किया. इस मौक़े पर डॉ. भट ने कहा कि पत्र लिखना एक अच्छी आदत है. पत्रों के माध्यम से अ़खबारों को नए-नए प्रयोग करने की प्रेरणा मिलती है. एडवोकेट वसी अहमद नोमानी ने कहा कि किसी भी अ़खबार के लेखों को पढ़ना एक बात है, लेकिन उसे पढ़ने के बाद अ़खबार को पत्र लिखकर अपने विचार रखना बड़ी बात है. इससे यह समझ में आता है कि पाठक क्या सोचते हैं. चौथी दुनिया के प्रधान संपादक संतोष भारतीय ने कहा कि हमने उर्दू के माध्यम से समाज की समस्याओं एवं आवश्यकताओं को सरकार तक और सरकार की योजनाओं को जनता तक पहुंचाने की कोशिश की है. अगर पाठकों का समर्थन मिलता रहा और लोग इसी तरह पत्र लिखकर बा़खबर करते रहे तो हमें इससे प्रोत्साहन मिलेगा. चौथी दुनिया उर्दू की संपादक वसीम राशिद ने अतिथियों का आभार व्यक्त करते हुए कहा कि हम उम्मीद करते हैं कि पाठक भविष्य में भी चौथी दुनिया को इसी तरह पत्र लिखकर अपने विचारों-प्रतिक्रियाओं से अवगत कराते रहेंगे.