मां के प्रशंसक नील

फिल्म इंडस्ट्री में एंट्री के बाद से नील नितिन मुकेश को एक अदद हिट का इंतज़ार है. उनकी यह चाहत 2012 में पूरी हो सकती है. ख़बर है कि निर्माता अब्बास मस्तान ने नील के साथ तीन फिल्मों की डील की है. इनमें एक फिल्म शाहरुख खान की बाज़ीगर की रीमेक है. प्लेबैक सिंगर नितिन मुकेश और निशी मुकेश के घर 15 जनवरी, 1982 को जन्मे नील का नामकरण लता मंगेशकर ने किया था. लता जी ने उनका नाम नील नितिन मुकेश रखा, क्योंकि नील के पिता नितिन अंतरिक्ष यात्री नील ऑर्मस्ट्रांग के फैन थे, लेकिन नील फैन थे हिंदी फिल्मों के. उन्होंने मुंबई के ग्रीन लॉन हाईस्कूल से शुरुआती पढ़ाई की, जबकि एच आर कॉलेज से कम्युनिकेशन की बैचलर डिग्री ली. ट्रेनिंग के लिए वह किशोर नमित कपूर और अनुपम खेर के संस्थानों में भी गए. बचपन से ही उनका सपना था कि वह अभिनेता बनें. नील अपनी मां के बहुत बड़े प्रशंसक हैं और वह हर बार नितिन एवं निशी के बेटे के रूप में जन्म लेना चाहते हैं. उन्होंने कहा, वे सबसे अच्छे अभिभावक हैं. वे बहुत भावुक, प्यार एवं देखभाल करने वाले हैं. मुझे उनका बेटा होने पर गर्व है. उन्होंने मुझे महान मूल्य सिखाए हैं, सम्मान और सच्चा प्यार करना सिखाया है. नील ने 2007 में जॉनी गद्दार में अभिनय से बॉलीवुड में शुरुआत की थी. नील नितिन मुकेश को नील मुकेश के नाम से भी जाना जाता है. कॉलेज के दौरान ही उन्होंने आदित्य चोपड़ा की फिल्म मुझसे दोस्ती करोगी में उनके सहयोगी के तौर पर काम किया था. अब तक वह जॉनी गद्दार, न्यूयॉर्क, जेल, लफंगे परिंदे, तेरा क्या होगा जॉनी और सात ख़ून माफ जैसी फिल्मों में काम कर चुके हैं. बतौर बाल कलाकार उन्होंने 1988 में फिल्म विजय और 1989 में फिल्म जैसी करनी वैसी भरनी में काम किया.

loading...