बड़े काम का बंदर

कैपुचिन प्रजाति का एक बंदर नामी कलाकार बन गया है और उसके बनाए चित्र यूरोप और इजरायल में काफी महंगे बिके हैं. सफेद टोपी पहनने वाले इस कनाडाई कैपुचिन बंदर को पाकेटस वरहोल नाम दिया गया है. यह बंदर अपनी पूंछ, हाथ, पैर और एक ब्रश की मदद से पेंटिंग बनाता है. इसे कनाडा के एक निजी अभयारण्य स्टोरी बुक फार्म में रखा गया है. यह बंदर अपने मालिकों के लिए पैसा कमाने की मशीन बन गया है. इसकी बनाई पेंटिंग्स 250 पौंड तक में बिकी हैं. यह बंदर दूसरे कलाकारों की तरह स्वच्छ छवियां नहीं उकेरता, बल्कि इसकी कलाकृतियां गूढ़ और प्रायोगिक होती हैं. पिछले साल स्टोरी फार्म की स्वयंसेवक चारमैन क्वीन ने इस बंदर के हाथ में बच्चों द्वारा इस्तेमाल किए जाने वाले गैर हानिकारक रंग थमा दिए थे, तबसे इसने प्रायोगिक कलाकृतियां उकेरनी शुरू कर दीं. क्वीन ने कहा, पाकेटस को इसमें मजा आता है, लेकिन वह दूसरे कलाकारों की तरह हमेशा शांत नहीं रहता. कई बार वह रंग खाने भी लगता है. अभयारण्य के मालिकों ने बताया कि पाकेटस की कमाई से जुटाए गए पैसों से एक नया बाड़ा खरीदा जाएगा. ऑस्ट्रेलिया के एडीलेड स्ट्रीट में पाकेटस द्वारा बनाए गए चित्रों की एक प्रदर्शनी लगाई गई है, जो दो महीनों के लिए है.