डिवोर्स स्पेशलिस्ट वकील आशिक अली

sanjay-mishraसंजय मिश्रा बॉलीवुड के उन चुनिंदा हास्य कलाकारों में से एक हैं जिनकी फिल्म में उपस्थिति मात्र से फिल्म का टेस्ट बदल जाता है. उनके अभिनय में वो परफेक्शन है जिसे आप किसी भी सूरत में चाहकर भी नज़र अंदाज नहीं कर सकते हैं. बतौर डॉयलाग डिलेवरी सहायक के अपने फिल्मी करियर की शुरूआत करने वाले संजय मिश्रा ने  बॉलीवुड में असली पहचान अपने हास्य अभिनय से बनाई. लेकिन उनकी हालिया रिलीज हुई फिल्म मसान में उन्होंने बेहतरीन अभिनय किया है. लेकिन गंभीर अभिनय से हट के अपने जाने-माने अंदाज में संजय मिश्रा एक बार फिर लोगों को गुदगुदाने आ रहे हैं.

फौजिया अर्शी द्वारा निर्देशित इस फिल्म में उनके किरदार का नाम आशिक अली है जो कि पेशे से वकील है. वह अपना परिचय में डिवोर्स स्पेशलिस्ट,एलएलबी फ्रॉम मार्शल आर्ट बताता है. किरदार का नाम है आशिक अली और काम है तलाक करवाना. इस तरह के विरोधाभास के बीच उनका किरदार बेहद प्रभावशाली नज़र आता है. इससे पहले भी संजय मिश्रा ने कई फिल्मों में वकील का किरदार अदा किया है जिसमें से भूतनाथ रिटर्न उन्होंने ऐसे वकील के रूप में नज़र आए हैं जो कि एक भूत(अमिताभ बच्चन) के चुनाव लड़ने में मदद करता है.

फिल्म भूतनाथ का वकील थोड़ा हकीकत से दूर था, लेकिन संजय ने अपनी भूमिका के साथ पूरा न्याय किया था. लेकिन होगया दिमाग का दही का आशिक अली वकीलों की उस जमात का प्रतिनिधित्व करता है जो पैसे लेकर कोई भी और कैसा भी काम कराने के लिए हमेशा तैयार रहते हैं. जब संजय मिश्रा को फिल्म की कहानी बहुत पसंद आई. वह बताते हैं कि स्क्रिप्ट सुनते वक्त उनके जहन में सत्तर के दशक की हास्य फिल्मों की यादें ताजा हो गईं.

फिल्म होगया दिमाग़ का दही एक कॉमेडी ड्रामा है, इस फिल्म में संजय का साथ कॉमेडी के दिग्गज ओम पुरी, कादर खान, राजपाल यादव, रज्जाक ख़ान, विजय पाटकर और सुभाष यादव कॉमेडियन दे रहे हैं.ऐसे में उनसे एक और बेहतरीन अभिनय की आशा की जा सकती है. संजय मिश्रा के मुताबिक जब फिल्म की निर्देशक फौज़िया अर्शी ने उनसे फिल्म में काम करने के लिए संपर्क किया तो सबसे पहले उनके दिमाग में यही ख्याल आया कि उनके दिमाग में कौन सा दही पक रहा है और कैसा दही बन रहा है.

अब संजय के प्रशंसकों को उनकी इस नई फिल्म का इंतजार है. फिल्म होगया दिमाग का दही 16 अक्टूबर को रिलीज होने जा रही है. फिल्म के टीजर को देखकर तो लगता है कि संजय मिश्रा की ओमपुरी और राजपाल यादव जैसे कॉमेडियन के साथ जुगलबंदी निश्चित तौर पर दर्शकों को हंसा-हंसाकर उनके दिमाग का दही करेगी.