राजधानी क्षेत्र के लिए गूगल टॉयलेट लोकेटर की शुरुआत की जायेगी

google-toiletशहरी विकास मंत्रालय ने सभी राज्‍यों और शहरों के प्रशासन से आज से शुरू होने वाले स्‍वच्‍छता पखवाड़े के दौरान अगले 15 दिनों में शहरी क्षेत्रों में शौचालयों के काम-काज की परीक्षा कराये जाने के लिए कहा है। इसका मकसद यह पता लगाना है कि क्‍या शौचालय ठीक तरह से कार्य कर रहे हैं और उनका पूरी तरह से इस्‍तेमाल हो रहा है?

राज्‍य और शहरी प्रशासन को अगले 15 दिनों के लिए भेजी गई कार्य योजना में व्‍यक्तिगत घरेलू शौचालयों और समुदाय तथा घरेलू शौचालयों के कामकाज की परीक्षा करने के लिए समुदाय प्रतिनिधियों तक पहुंच कायम करने और जल उपलब्‍धता सहित पाई जाने वाली खामियों को दूर करने के लिए कहा गया है।

राज्‍यों और शहरों से पखवाड़े की शुरुआत में कम-से-कम दो अभियान शुरू करने और एक सप्‍ताह बाद शौचालयों के निर्माण के लिए लाभार्थियों को प्रोत्‍साहित करने के लिए कहा गया है। समुदाय एवं सार्वजनिक शौचालयों के निर्माण के लिए शिलान्‍यास किये जाने हैं।

व्‍यक्तिगत घरेलू शौचालयों के निर्माण के लिए लाभार्थियों को बकाया राशि का भुगतान करने के लिए विशेष कैंप आयोजित किये जा रहे हैं। इसके लिए पोस्‍टर,स्‍कूटर या टीवी सेट खरीदने जैसी जरूरत के मुकाबले शौचालय के निर्माण को प्राथमिकता देने के के लिए ‘असली तरक्‍की अभियान’ चलाया जायेगा।

Read also : तो अब बंद हो जाएगी लखटकिया नैनो!

राज्यों और शहरी प्रशासन को व्‍यापक प्रचार-प्रसार तथा स्‍वच्‍छता प्रक्रियाओं के बारे में लोगों को प्रोत्‍साहित करने के लिए मीडिया को शामिल करने की भी सलाह दी गई है। शहरी विकास मंत्रालय राष्‍ट्रीय राजधानी क्षेत्र के लोगों की भलाई के लिए जल्‍दी ही गूगल टॉयलेट लोकेटर की शुरुआत करेगा। इससे उपयोग के लिए नजदीकी शौचालय का पता लगाने में मदद मिलेगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *