नोट बंदी के कारण इस बार बेरौनक हुई अंतराष्ट्रीय व्यापार मेला 

international-trad-fairहर साल की तरह इस साल भी दिल्ली में अंतराष्ट्रीय व्यापार मेला की शुरुआत आज से हो गई है, लेकिन इस साल इस विश्व प्रसिध्ध मेले की चमक फीकी पड़ गई है। केंद्र सरकार द्वारा अचानक 500 और 1000 रुपये के नोट बंद करने के फैसले का असर इस मेले पर भी दिख रहा है। इस बार नोट बंदी के कारण काफी कम लोग मेले में आ रहे हैं और जो लोग आ रहे हैं, वह कुछ खरीदने से बच रहे हैं।

दिल्ली के उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने प्रगति मैदान में 36वें भारतीय अंतर्राष्ट्रीय व्यापार मेले (आईआईटीएफ) में दिल्ली पवैलियन का उद्घाटन किया, इस मौके पर उन्होंने कहा कि 500 रुपये और 1000 रुपये के नोट अवैध घोषित होने के बाद  व्यापारी नकदी की कमी से जूझ रहे हैं, ऐसे में कारोबार कैसे होगा? केंद्र सरकार पर निशाना साधते हुए सिसोदिया ने कहा कि 500 और 1000 रुपये के नोटों के विमुद्रीकरण के कारण पूरे देश के लोग प्रभावित हुए हैं। लोगों को काफी परेशानी उठाना पड़ रहा है। अंतरराष्ट्रीय व्यापार मेले में कई देशों के व्यापारी बड़ी उम्मीद के साथ आये हैं, लेकिन यहां आकर मायूस हो रहे हैं। सिसोदिया ने भारतीय व्यापार संवर्धन संगठन (आईटीपीओ) से जनता की सुविधा के लिए 500 और 1000 रुपये के नोटों का इस्तेमाल करने की अनुमति देने का आग्रह किया है। सिसोदिया ने कहा कि आम जनता को विशेष रूप से व्यापारियों को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के इस कदम से समस्याओं का सामना करना पड़ रहा है।

Read Also : ‘सुखमय बुढ़ापा’ पूरे विश्व की प्राथमिकता होनी चाहिए

दिल्ली के अधिकतर एटीएम के बाहर लम्बी लाइन लगी रहती है और आपकी बारी कई घंटों बाद आ भी जाये तो जरूरी नहीं कि पैसे मिल ही जाए। मेले में 500 – 1000 के नोट नहीं चल रहे हैं, इससे व्यापारियों को और मेले में आये लोगों को काफी परेशानी हो रही है। चाह कर भी वे कुछ खरीद नहीं पर रहे हैं। व्यापार मेले में आये वरुण कहते है कि हमने यहां खरीदारी के लिए काफी रिक्वेस्ट भी की 500 – 1000  के नोट लेने के लिए लेकिन यहां मेले में 500 – 1000 के नोट लेने के लिए कोई तैयार नहीं है। वहीं मेले में आये रवि कहते हैं कि इस बार ज्यादा कंपनियां मेले में आई हैं, लेकिन हर साल की तरह इस साल मेले में रौनक नहीं है। नोट के अभाव में व्यापारी और खरीदार दोनों परेशान हैं। रवि कहते हैं कि हालांकि सरकार एक्शन ले रही है और उम्मीद है कि एक- दो दिन में समस्या दूर हो जाएगी।

You May also Like

Share Article

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *