सावधान, खाते में 2 लाख जमा करने वाले भी आएंगे जांच के दायरे में!

Rupeesअगर आप सोच रहे हों कि 8 नवंबर के बाद आपने तो अपने खाते में 2 लाख रुपए ही जमा किए हैं, इसलिए आपको चिंता करने की जरूरत नहीं, तो आप गलत हैं. नोटबंदी के फैसले के बाद पुराने नोटों में जमा की गई 2 लाख तक की राशि भी जांच के घेरे में आ सकती है. पहले सरकार ने कहा था कि पुराने नोटों में 2.50 लाख रुपये तक की रकम जमा कराने पर छूट होगी. लेकिन हाल के दिनों में कालेधन को सफेद करने के लिए अपनाए जा रहे हथकंडों में आम लोगों के बैंक अकाउंट के उपयोग को देखते हुए सरकार इस बारे में सोच रही है. कई ऐसी खबरें सामने आई हैं भारी मात्रा में कालाधन रखने वाले लोग बड़ी रकम को टुकड़ों में बांटकर अलग-अलग खातों में जमा करवा रहे हैं.

Read Also: जनता पर मार और राजनीतिक दल मजे में, दलों को पुराने नोटों में मिले चंदा टैक्स फ्री

पहले आरबीआई इस तरह के बैंक अकाउंट की पहचान करेगा और फिर उनके बारे में आईटी डिपार्टमेंट को सूचित करेगा. आईटी डिपार्टमेंट संदिग्ध ट्रांजैक्शंस को लेकर उनकी जांच करेगा. इसके लिए आरबीआई ने सभी बैंकों को इस तरह के अकाउंट के बारे में जानकारी देने का निर्देश जारी कर दिया है. हालांकि बैंकों के लिए इस तरह की जानकारी जुटाना काफी मुश्किल भरा काम होगा. क्योंकि 2 लाख बहुत बड़ी राशि नहीं है. ऐसे लाखों खाते होंगे जिनमें नोटबंदी के बाद 2 लाख की रााशि में पैसे जमा कराए या निकाले गए होंगे.

loading...