कलमाड़ी बने आईओए के आजीवन संरक्षक, खेल मंत्री नाराज

Suresh-Kalmadiसुरेश कलमाड़ी को इंडियन ओलंपिक एसोसिएशन का आजीवन संरक्षक बनाया गया है. उनके अलावा, हरियाणा के नेता अभय चौटाला को आईओए का अध्यक्ष बनाया गया है. कलमाड़ी 2010 के कॉमनवेल्थ घोटाले में आरोपी हैं. वे दस महीने जेल में भी बिता चुके हैं. कलमाड़ी पर आरोप है कि उन्होंने कॉमनवेल्थ गेम्स के दौरान एक स्विस फर्म को टाइमिंग इक्युपमेंट के लिए 141 करोड़ के ठेके दिए थे. चौटाला को नवंबर में हरियाणा ओलंपिक एसोसिएशन का प्रमुख बनाया गया था. उनके खिलाफ आय से ज्यादा संपत्ति का केस चल रहा है. खेल मंत्री विजय गोयल ने आईओए के इस फैसले पर निराशा जाहिर की है. उन्होंने कहा कि मैं इस फैसले से हैरान हूं. इस बारे में रिपोर्ट तलब करूंगा. इन दोनों पर भ्रष्टाचार के आरोप हैं. उन्होंने इस फैसले को नामंजूर कर दिया है.

मंगलवार को चेन्नई में आईओए की मीटिंग थी. इसके सदस्यों ने   कलमाड़ी को आजीवन संरक्षक और चौटाला को प्रेसिडेंट बनाने का फैैसला किया. गौरतलब है कि कलमाड़ी 1996 से 2011 तक आईओए के अध्यक्ष रह चुके हैं. वहीं अभय चौटाला ने दावा किया है कि उन्हीं की वजह से भारतीय खिलाडी बेहतर प्रदर्शन कर रहे हैं और ओलंपिक में लगातार मेडल्स जीत रहे हैं. उन्होंने खेल मंत्री को अनावश्यक विवाद पैदा करने के बजाय खेल पर ध्यान देने की सलाह दी. उन्होंने कहा कि उन पर कोई क्रिमिनल या करप्शन का केस नहीं, बल्कि पॉलीटिकल केस चल रहा है. कांग्रेस ने राजनीति के तहत मेरे खिलाफ केस दर्ज कराए थे.

loading...