एंबेसडर की हत्या से बौखलाया रूस, पुतिन बोले-लेंगे बदला

vladimir-putin-reacts-russian-envoyतुर्की की राजधानी अंकारा में एक शख्स ने रूसी एम्बेसडर आंद्रेई कार्लोव की गोली मारकर हत्या कर दी. मारने के बाद हमलावर ने अल्ला हू अकबर के नारे लगाए. इसके साथ ही उसने कहा कि हम लोग अलेप्पो में मरेंगे और तुम लोग यहां. हमलावर इतने गुस्से में था कि उसने रूसी एंबेसडर पर 8 गोलियां दागीं. हालांकि पुलिस ने भागने का प्रयास करते हुए हमलवार को मार गिराया.

आतंकियों के खिलाफ और तेज होगा हमला

रूस के प्रेसिडेंट ब्लादिमीर पुतिन ने कहा कि हत्यारों को जल्द इसका अहसास कराया जाएगा. पुतिन ने कहा, हत्यारों को इसका अहसास होगा कि उन्होंने क्या किया है? हमले को लेकर रूस का यही जवाब होगा कि हम आतंकवाद के खिलाफ और तेजी से लड़ेंगे. रूसी एम्बेसडर पर हमले का सीधा मकसद सीरिया में हालात को और बिगाड़ना है.

जानकारी मिली है कि कार्लोव एक आर्ट एग्जीबिशन में भाषण दे रहे थे. अल्टिनटास कार्लोव के पास लेटकर पहुंचा. उसने यह कन्फर्म करने के लिए कि मौत हो चुकी है, पास से भी गोलियां चलाईं. इस दौरान हमलावर ने उन पर लगातार 8 गोलियां चलाईं. लोगों को डराने के लिए उसने दीवार पर लगी कई फोटो को भी तोड़ दिया.

भागने के दौरान वह बिल्डिंग की दूसरी मंजिल पर चढ़ गया. शूटआउट के 15 मिनट बाद ही उसे मार गिराया गया. तुर्की के एक मंत्री ने बताया कि हमलावर की पहचान मेवलुट मर्ट अल्टिनटास के रूप में हुई है. वह खुद अंकारा में दंगा-विरोधी पुलिस में था. वह 2 साल से पुलिस में था. बताते चलें कि रूस और तुर्की सीरिया में चल रही जंग में शामिल हैं. अब तक सीरिया से 20 लाख लोग देश छोड़कर जा चुके हैं.