भाजपा ने फिर उठाया राम मंदिर का मुद्दा

उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव से पूर्व राम मंदिर का मुद्दा एक बार फिर गरमाने लगा है. भाजपा ने इसे चुनावी मुद्दा बनाते हुए कहा है कि अगर वह पूर्ण बहुमत में आती है, तो अयोध्या में भव्य राममंदिर का निर्माण किया जाएगा. उत्तर प्रदेश भाजपा के अध्यक्ष केशव प्रसाद मौर्य ने कहा कि राम मंदिर हिंदुओं की आस्था का सवाल है. दो महीने में इसका निर्माण नहीं होने जा रहा है.

मंदिर का निर्माण चुनाव के बाद किया जाएगा. भाजपा पूर्ण बहुमत के साथ सत्ता में आ रही है. भाजपा एक बार फिर राम मंदिर को मुद्दा बनाकर हिंदुओं का वोट एकजुट करना चाहती है. चुनावी विश्लेरषकों का मानना है कि भाजपा इस प्रयास में जी-जान से जुटी है कि अल्पसंख्यकों के वोट का ध्रुवीकरण न हो सके. वोट बंटने की स्थिति में सबसे ज्यादा फायदा भाजपा को ही होगा.

अखिलेश यादव पर हमला करते हुए उन्होंने कहा कि वे न तो पिछड़े वर्ग के साथ हैं और न ही दलितों के साथ. उन्होंने कहा कि वे सिर्फ लोगों से विश्वाासघात करते हैं. उन्होंने आरोप लगाया कि उनकी सरकार में पूरा सरकारी तंत्र भ्रष्टाचार में डूबा रहा है.

उन्होंने कहा कि अगर भाजपा सत्ता में आई, तो वह जांच कराएगी. अगर जरूरत पड़ी तो उन्हें जेल भेजेगी. उन्होंने समाजवादी पार्टी को डूबता जहाज बताया और कांग्रेस का जहाज तो काफी पहले डूब चुका है. ऐसे में अगर बसपा भी इसमें शामिल होती है तो इस जहाज को डूबने से नहीं बचा सकेगी.