पांच राज्यों में विधानसभा चुनाव के लिए तारीखों का ऐलान, 11 मार्च को आएंगे नतीजे

election commission

चुनाव आयोग ने 5 राज्यों में विधानसभा चुनाव के लिए तारीखों का ऐलान कर दिया है. ये पांच राज्य हैं- उत्तर प्रदेश, पंजाब, उतराखंड, गोवा और मणिपुर. चुनाव तारीखों के ऐलान के साथ ही इन पांचो राज्यों में आचार संहिता लागू हो गई. तारीखों के ऐलान से पहले चुनाव आयोग ने चुनाव संबंधी कई बातें स्पष्ट की. चुनाव प्रचार के दौरान ध्वनि प्रदूषण और पर्यावरण को नुकसान पहुंचाने वाली सामग्रियों पर प्रतिबंध होगा. कुछ जगहों पर महिलाओं के लिए अलग से पोलिंग बूथ बनाए जाएंगे. नामांकन दर्ज करने वाले उम्मीदवारों के लिए शर्त है कि वे भारत के नागरिक हों. उम्मीदवारों को नॉमिनेशन पेपर पर फोटो लगाना होगा. सुरक्षा के लिए चुनाव केंद्रों पर राज्य पुलिस के साथ-साथ अर्धसैनिक बल भी तैनात किए जाएंगे. इलेक्ट्रॉनिक पोस्टल बैलट से वोट डालने की सुविधा होगी. यूपी, पंजाब और उत्तराखंड में उम्मीदवारों के लिए तय की गई खर्च की सीमा 28 लाख रुपए है जबकि मणिपुर और गोवा में एक उम्मीदवार 20 लाख रुपए तक खर्च कर सकेंगे.

यूपी चुनाव 7 फेज में

पहले फेज में 15 जिलों की 73 सीटों के लिए 11 फरवरी को.

दूसरे फेज में 11 जिलों की 68 सीटों के लिए 15 फरवरी को.

तीसरे फेज 12 जिलों की 69 सीटों के लिए 19 फरवरी को.

चौथे फेज में 12 जिलों की 53 सीट के लिए 23 फरवरी को.

पांचवे फेज में 11 जिलों की 52 सीट के लिए 27 फरवरी को.

छठे फेज में 7 जिलों की 49 सीट के लिए 4 मार्च को.

सातवे फेज में 7 जिलों की 40 सीटों के लिए 8 मार्च को.

मणिपुर में चुनाव दो फेज में

पहले फेज में 38 सीट के लिए 4 मार्च को

दूसरे फेज में 22 सीटों के लिए 8 मार्च को.

उत्तराखंड में सभी सीटों पर एक साथ चुनाव

15 फरवरी को सभी 70 सीटों पर एक साथ चुनाव होगा.

पंजाब चुनाव एक फेज में ही

पंजाब में सभी विधानसभा सीटों के लिए 4 फरवरी को ही चुनाव होंगे.

गोवा में चुनाव एक ही फेज में

गोवा में सभी सीटों के लिए एक ही फेज में 4 फरवरी को चुनाव होंगे.

सभी राज्यों के चुनाव परिणाम 11 मार्च को एक साथ आएंगे.