प्रियंका-डिंपल की नजदीकी ने कराया सपा-कांग्रेस में गठबंधन

सीटों को लेकर पेंच फंसने के बाद लग रहा था कि अब समाजवादी पार्टी और कांग्रेस का गठबंधन नहीं होगा. लेकिन रविवार को दोनों दलों के साझा प्रेस कॉन्फ्रेंस के बाद तय हो गया कि सपा और कांग्रेस एक साथ चुनावी मैदान में उतरेंगे. बताया जा रहा है कि इस गठबंधन के पीछे प्रियंका गांधी और डिंपल यादव की अहम भूमिका रही. अब बताया जा रहा है कि ये दोनों एकसाथ चुनाव प्रचार में भी नजर आ सकती हैं. यूपी में प्रियंका गांधी और डिंपल यादव के साथ तस्वीरों वाले पोस्टर भी नजर आने लगे हैं.
एक अंग्रेजी अखबार ने दावा किया है कि गठबंधन में पेंच फंसता देख प्रियंका गांधी ने शुक्रवार या शनिवार की रात को एक बजे के करीब अखिलेश यादव की पत्नी डिंपल यादव को फोन किया. उन्होंने कहा कि अखिलेश ने फोन बंद किया हुआ है. इस बातचीत के बाद ही सीटों के मुद्दे को सुलझाया गया. वरिष्ठ कांग्रेसी नेता अहमद पटेल ने भी इस बात की पुष्टि की है. उन्होंने कहा है, गठबंधन के लिए कांग्रेस के जनरल सेक्रेटरी (गुलाम नबी आजाद) और प्रियंका गांधी की सीएम अखिलेश से हाइएस्ट लेवल पर बातचीत हो रही थी.
गौरतलब है कि नवजोत सिंह सिद्धू के कांग्रेस ज्वाइन करने में भी प्रियंका गांधी की भूमिका सामने आई थी. बताया जाता है कि आम आदमी पार्टी से बात नहीं बनने के बाद पिछले साल सितंबर में सिद्धू प्रियंका गांधी से मिले थे. तब सिद्धू ने प्रियंका की तारीफ में कहा था कि वे इंदिरा गांधी जैसी लगती हैं. प्रियंका ने भी सिद्धू को अपना पसंदीदा खिलाड़ी बताया था.