यूपी चुनाव 2017 : पंजे को मिला साइकिल का साथ तो डरने की क्या बात

up election 2017, congress, sp, joint press confrenceनई दिल्ली, (विनीत सिंह) : यूपी विधानसभा चुनाव के मद्देनज़र आज समाजवादी पार्टी और कांग्रेस की पहली जॉइंट प्रेस कॉन्फ्रेंस हुई. इस कांफ्रेंस में अखिलेश यादव और राहुल गांधी मौजूद रहे. इस कांफ्रेंस में दोनों नेताओं ने गठबंधन सॉन्ग ‘यूपी को यह साथ पसंद है’ लॉन्च किया।

कोंफ्रेंस में मौजूद दोनों नेताओं ने दावा किया कि एसपी-कांग्रेस गठबंधन को 300 से ज्यादा सीटें मिलेंगी। इस दौरान दोनों ही नेता काफी कॉंफिडेंट नज़र आये. यहाँ पर मौजूद राहुल गाँधी ने भाजपा पर जमकर निशाना साधा.

राहुल गांधी ने कहा कि अखिलेश के साथ उनके व्यक्तिगत रिश्ते हैं। उन्होंने कांग्रेस और समाजवादी पार्टी के गठबंधन को गंगा-यमुना का मिलन बताया। राहुल ने यह भी कहा की यूपी के युवाओं को हम विकल्प और नया रास्ता देना चाहते हैं, नई तरह की राजनीति देना चाहते हैं। हम वैचारिक समानता पर चुनाव लड़ रहे हैं।

प्रेस कांफ्रेंस में दोनों ही नेता एक दुसरे की तारीफों के पुल बांधते नज़र आये इस दौरान अखिलेश बोले की हम दोनों साइकिल के दो पहियों की तरह हैं. अखिलेश ने कहा कि साइकल के साथ हाथ हो और हाथ के साथ साइकल हो तो रफ्तार बढ़ेगी ही।

साझा प्रेस कांफ्रेंस में राहुल गाँधी ने बीएसपी और मायावती पर नरम रुख अपनाया इसका कारण शायद यह है की वो मायावती को मुख्यमंत्री के दावेदारी में कम आंकते हैं. लेकिन जहाँ उन्होंने मायावती पर निशाना नही साधा वहीँ बीजेपी को उन्होंने आड़े हाँथ लिया.

राहुल गांधी ने कहा की बीएसपी ने अपने सरकार के दौरान गलतियां की थी लेकिन निजी तौर पर वह मायावती का सम्मान करते हैं। उन्होंने कहा कि मायवती और आरएसएस-मोदी की तुलना नहीं की जा सकती। कांग्रेस उपाध्यक्ष ने कहा कि मायावती और बीजेपी में बड़ा फर्क है, बीजेपी क्रोध फैलाती है, गुस्सा फैलाती है, नफरत फैलाती है जबकि मायावती की विचारधारा से देश को खतरा नहीं है।

loading...