बुज़ुर्गों के लिए शराब फायदेमंद!

नई दिल्ली, (राज लक्ष्मी मल्ल): जो बुज़ुर्ग शराब का सेवन करते हैं, उनके लिए एक अच्छी ख़बर है. अगर वे नियमित रूप से सीमित मात्रा में शराब का सेवन करते हैं तो यह उनकी सेहत के लिए फायदेमंद साबित हो सकता है. ऐसा हम नहीं, वैज्ञानिक कह रहे हैं. उनका दावा है कि रात में भोजन के बाद एक या दो पैग शराब का सेवन करने से बुज़ुर्गों में दिल की बीमारी, मधुमेह एवं मानसिक विकृति के ख़तरों को कम किया जा सकता है.

शोधकर्ताओं का कहना है कि एक या दो पैग लेने वाले बुज़ुर्गों की मृत्यु दर में 30 फीसदी की कमी हो सकती है. रात का भोजन करने के बाद शराब पीने का आनंद लेना अच्छा साबित हो सकता है, क्योंकि शराब से भोजन जल्दी पच सकता है. ऐसे में इसका सेवन करने वाले ख़ुद को काफी हल्का महसूस करेंगे.

समाचारपत्र डेली मेल के मुताबिक, वेस्टर्न ऑस्ट्रेलिया विश्वविद्यालय के शोधकर्ताओं ने इस प्रभाव को जानने के लिए 65 वर्ष से अधिक उम्र के लगभग 25 हजार लोगों पर यह प्रयोग किया. अंतरराष्ट्रीय विज्ञान फोरम ऑन एल्कोहल रिसर्च से संबद्ध हेलेना कानिबियर ने कहा कि अधिकांश बुज़ुर्गों की मौत धमनियां बंद हो जाने से होती है. धमनियां बंद होने से रक्त का प्रवाह कम हो जाता है. इस वजह से मानसिक विकृति, दिल की बीमारी और कई तरह के दौरे पड़ने का ख़तरा बना रहता है. हेलेना कहती हैं, शराब रक्त को पतला बना देती है और धमनियों की सूजन को कम करके उन्हें खुला रखने में सहायता करती है. यह इंसुलिन बढ़ाने में भी मदद करती है, जिससे मधुमेह होने का ख़तरा कम हो जाता है.

loading...