ट्रेंडिंग न्यूज़स्वास्थ्य

जानिये क्या है ब्लैक मार्केट प्लास्टिक सर्जरी की काली सच्चाई

Share Article

black market, plastic surgery, concequences, dangerousनई दिल्ली, (विनीत सिंह) : आपने प्लास्टिक सर्जरी का नाम तो खूब सुना होगा और यह भी जानते होंगे की प्लास्टिक सर्जरी की मदद से लोग अपनी खूबसूरती को और अधिक बढ़ा सकते हैं. लेकिन अब हम आपको ब्लैक मार्केट प्लास्टिक सर्जरी के बारे में बताने जा रहे हैं जिसे जानकार आपके होश उड़ जायेंगे.

दरअसल ब्लैक मार्केट प्लास्टिक सर्जरी का कांसेप्ट विदेशों में काफी प्रचलित है. अमूमन लोग अपने चेहरे से जुड़ी प्लास्टिक सर्जरी के लिए किसी नामी डाक्टर के पास जाते हैं जिसे प्लास्टिक सर्जरी में महारथ हासिल हो लेकिन ब्लैक मार्केट प्लास्टिक सर्जरी इससे बिल्कुल अलग है.

ब्लैक मार्केट प्लास्टिक सर्जरी में जिन डाक्टरों का हाथ होता है वो कोई ट्रेन्ड डाक्टर नही होते इसके अलावा सर्जरी के लिए उनके पास कामचलाऊ औजार होते हैं जो घटिया किस्म के होते हैं जहाँ नार्मल प्लास्टिक सर्जरी में 2 लाख से 10 लाख का खर्चा आता है वहीँ ब्लैक मार्केट प्लास्टिक सर्जरी पचास हज़ार या फिर कई बार इससे भी कम में हो जाती है.

ब्लैक मार्केट प्लास्टिक सर्जरी सस्ती तो होती है लेकिन इसके परिणाम घातक होते हैं. ऐसी सर्जरी में अक्सर लोगों को ठगा जाता है. लेकिन सस्ती होने के वजह से लोग इसकी तरह खींचे चले आते हैं.

ब्लैक मार्केट प्लास्टिक सर्जरी से कितना नुक्सान होता है यह बात राजी नाम की विदेशी ट्रांसजेंडर महिला अच्छी तरह से समझती है. राजी ने अपने आपको और खूबसूरत बनाने के लिए ब्लैक मार्केट प्लास्टिक सर्जरी का सहारा लिया लेकिन डाक्टर ने राजी के चेहरे पर सीमेंट, सुपरग्लू और टायर सील इंजेक्ट कर दिया जिससे उसके चेहरे पर गांठे पड़ गयी.

बाद में राजी का घर से भी निकलना मुहाल हो गया. घर से निकलने में राजी को शर्म आती थी और जब वो घर से बाहर निकलती थी तब लोग उनको अजीब निगाहों से देखते थे. बाद में राजी ने अच्छे डाक्टरों से अपना इलाज कराया और आज वो पूरी तरह से ठीक हो चुकी हैं लेकिन ब्लैकमार्केट प्लास्टिक सर्जरी के निशान उनके चेहरे पर मौजूद हैं.

विनीत सिंह Administrator|User role
Sorry! The Author has not filled his profile.
×
विनीत सिंह Administrator|User role
Sorry! The Author has not filled his profile.

You May also Like

Share Article

Comment here