सलाखों के पीछे शशिकला, दिन भर बनायेंगी अगरबत्ती-मोमबत्ती मिलेंगे 50 रूपये

supreme-court-sasikala-time-surrender-now-bengluruनई दिल्ली, (विनीत सिंह) : तमिलनाडु में अगली मुख्यमंत्री बनने जा रही शशिकला अब जेल जा चुकी हैं. जेल में उन्हें सजा के रूप में अगरबत्ती और मोमबत्ती बनाने का काम दिया गया है साथ ही इस काम के लिए उन्हें 50 रूपये भी मिलेंगे. किसी इंसान की किस्मत कैसे एक झटके में बदल जाती है इस बात का जीता जागता उदाहरण शशिकला के साथ देखने को मिला.

अन्नाद्रमुक प्रमुख वीके शशिकला ने बुधवार शाम को बेंगलुरु कोर्ट में सरेंडर कर दिया. वहां से उन्हें जेल ले जाया गया. शशिकला ने अपील की थी कि उन्हें जेल की उसी सेल में रखा जाए, जिसमें पहले जयललिता को रखा गया था.

बुधवार को जब शशिकला जेल में समर्पण करने जा रही थीं उससे पहले उन्होंने पूर्व दिवंगत मुख्यमंत्री जयललिता की समाधि पर जाकर प्रार्थना की. इस दौरान शशिकला ने शपथ भी ली थी. एआईएडीएमके की महासिचव शशिकला को सुप्रीम कोर्ट ने आय से अधिक संपत्ति रखने के मामले में 4 साल की सजा सुनाई है. इसी फैसले का पालन करते हुए शशिकला सरेंडर करने के लिए बंगलुुरु पहुंची थी.

शशिकला ने सरेंडर करने के लिए सुप्रीम कोर्ट से समय माँगा था लेकिन कोर्ट ने अपने फैसले में कोई भी बदलाव नही किया. जेल जाने से पहले शशिकला ने अपनी आखिरी चाल चलते हुए अपने भतीजे दिनाकरन को एआईएडीएमके का उप महासचिव बनाया है. दिनाकरन ही शशिकला की गैर मौजूदगी में पार्टी को सम्हालेंगे. शशिकला ने जेल जाने का फैसला आने बाद तत्काल प्रभाव से पन्नीरसेल्वम को पार्टी से निकालते हुए पालानीसामी को विधायक दल का नया नेता चुन लिया.

पालानीसामी शशिकला खेमे के नेता माने जाते हैं और चार बार विधायक भी रह चुके हैं. इस मौके पर पन्नीरसेल्वम खेमे ने जमकर जश्न मनाया और शशिकला के जेल जाने के जश्न में आतिशबाजी की.