मनमानी पर अड़े OLA और UBER चाहते हैं इतना बढ़ जाए किराया

नई दिल्ली, (राज लक्ष्मी मल्ल) : दिल्ली- एनसीआर के लोगों को इस चिलचिलाती धुप का सामना करना पड़ेगा क्योंकि आज आप लोग टैक्सियां बुक नही कर सकेंगे. क्योंकि ऐप बेस्ड कैब सर्विस ओला और उबर के ड्राइवर कम किराये के खिलाफ आज हड़ताल पर हैं. यह ड्राइवरों की हड़ताल का दूसरा दौर है.

आपको बता दे इससे पहले फरवरी में भी कैब ड्राइवर हड़ताल पर चले गए थे. यह हड़ताल 13 दिनों तक चली थी. जिस वजह से दिल्ली, नोएडा, गाजियाबाद, गुड़गांव और फरीदाबाद में यात्रियों को बड़ी असुविधा हुई थी.

एक बार फिर कैब ड्राइवरों की हड़ताल से दिल्ली और उससे सटे शहरों में निजी परिवहन सेवा पर असर पड़ सकता है, क्योंकि टूरिस्ट टैक्सी प्रदाताओं, ऑटोरिक्शा यूनियन और सर्वोदय ड्राइवर एसोसिएशन ने हड़ताली ड्राइवरों को अपना समर्थन दिया है.

दिल्ली-एनसीआर में एप बेस्ट करीब 1.25 लाख टैक्सियों का प्रतिनिधित्व करने का दावा करने वाले एसोसिएशन की मांग है कि वर्तमान किराया दर छह रूपए प्रति किलोमीटर से बढ़ाकर 20 रपये प्रति किलोमीटर की जाए. एसोसिएशन की यह भी मांग है कि 25 फीसदी कमीशन को भी खत्म किया जाए, जो कंपनियां ड्राइवरों से वसूलती हैं.

एसोसिएशन के उपाध्यक्ष रवि राठौड़ ने कहा कि दिल्ली सरकार के खिलाफ ड्राइवर विरोध मार्च निकालेंगे. उन्होंने कहा कि नॉर्थ दिल्ली में मंजनू का टीला से सिविल लाइंस इलाके में मुख्यमंत्री आवास तक विरोध मार्च निकाला जाएगा. ड्राइवरों में नाराजगी है कि सरकार ओला और उबर से जुड़े मुद्दों में हस्तक्षेप नहीं कर रही है.