अब किताब और खादी के रुमाल से होगा PM का स्वागत

now state government will welcom pm modi with book

नई दिल्ली: पहले प्रधानमंत्री जिस राज्य के दौरे पर जाते थे वहां पर उन्हें स्वागत के तौर पर कीमती फूलों का गुलदस्ता दिया जाता था. लेकिन हाल ही में हुए एक समारोह के दौरान PM ने लोगों से तोहफे में ‘बुके की बजाय बुक’ देने की बात की थी. इसके तहत अब पीएम मोदी जिस किसी भी राज्य के दौरे पर जाएंगे वहां अपने स्वागत में कीमती फूलों के गुलदस्ते या अन्य तोहफे लेने से परहेज करेंगे.

केंद्र सरकार ने सभी राज्य सरकारों से प्रधानमंत्री की इस इच्छा के अनुरूप ही उनका स्वागत करने के लिए अनुरोध किया है. पिछले सप्ताह गृह मंत्रालय द्वारा सभी राज्य सरकारों के मुख्य सचिव और संघशासित क्षेत्र के प्रशासकों को भेजे पत्र में प्रधानमंत्री के स्वागत संबंधी उनके अनुरोध का पालन सुनिश्चित करने को कहा गया है.

मंत्रालय द्वारा भेजे पत्र में कहा गया है कि भारत के अंदर किसी भी राज्य के दौरे पर प्रधानमंत्री के स्वागत में संबंद्ध राज्य सरकार के प्रतिनिधियों द्वारा उन्हें गुलदस्ता (बुके) भेंट स्वरूप न दिए जाएं. सर्वश्रेष्ठ तो यह होगा कि उन्हें गुलदस्ते के बजाय महज एक फूल ही दिया जाए.’ इतना ही नहीं मंत्रालय ने राज्य सरकारों से यह भी कहा है कि स्वागत के दौरान पीएम को फूल के साथ खादी का एक रुमाल या कोई एक पुस्तक भी अगर भेंट स्वरूप दी जाती है, तो इसमें कोई हर्ज नहीं होगा.