चीनी स्मार्टफोन कंपनियों पर भारत की तिरछी नजर, डेटा चोरी का शक

नई दिल्ली : सरकार ने एक बार फिर से चौका देना वाला फैसला किया है जिसे दुनियाभर के स्मार्टफोन कंपनियों को झटका लग सकता है. सरकार ने कंपनियों को नोटिस जारी कर पूछा है कि तुम्हारे फोन में डेटा की सुरक्षा के लिए क्या इंतजाम किए गए हैं उसका ब्योरा साझा करने को कहा है. जी हां, सरकार ने दुनियाभर के 21 स्मार्टफोन कंपनियों से सुरक्षा जानकारी मांगी है, क्योंकि सरकार को डर लगा है कि कहीं मोबाइल कंपनियां लोगों का डेटा चुराकर किसी और देश में बेच रहे हैं.

केंद्रीय इलेक्ट्रॉनिकी एवं सूचना प्रौद्योगिकी मंत्रालय ने इन सभी स्मार्टफोन कंपनियों से 28 अगस्त तक जानकारी साझा करने के लिए कहा है. बता दें कि सरकार ने इन कंपनियों से स्मार्टफोन उपकरणों की सुरक्षा सुनिश्चित करने के लिए अमल में लाने वाली प्रक्रियाओं की जानकारी मांगी है.

मंत्रालय के एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा कि सरकार ने यह कदम यूजर्म के डाटा लीक और उनकी निजता को आश्वस्त करने के लिए उठाया है. सरकार ने सभी कंपनियों को 28 अगस्त तक जानकारी उपलब्ध कराने के लिए कहा है.

प्राप्त जानकारी के मुताबिक सरकार ने जिन कंपनियों से सुरक्षा जानकारी मांगी है उनमें से ज्यादातर चीनी कम्पनियां शामिल हैं. अगर ये कंपनियों सुरक्षा प्रकियाओं में अपनाई जाने वाली जानकारी साझा नहीं करती हैं तो इनपर आईटी एक्ट 43 (ए) के तहत कार्रवाई की जाएगी. इतना ही नहीं सरकार ऐसी कंपनियों पर जुर्माना लगा सकती है