बारिश में ऐसे करें कपड़ों का रखरखाव, नहीं तो पड़ जाएंगे बीमार

नई दिल्ली, (राज लक्ष्मी मल्ल) : बारिश का मौसम आते ही चारों तरफ हरियाली छा जाती हैं. अधिकाशं लोगों को बारिश का मौसम पसंद होता हैं. सभी को इस मौसम में चाय के साथ समोसे खाना बेहद पसंद आता है. इस मौसम की बहुत सारी खूबियां है तो सेहत के लिए नुकसानदायक भी बहुत है.

इस मौसम में कई बातें आपको अन्दर से झुंझलाहट पैदा कर देती हैं. इस मौसम में अगर सबसे ज्यादा समस्या होती है वो कपड़ों के सूखने को लेकर होती है. बरसात के मौसम में कपड़ें ठीक तरह से सुख नही पाते हैं और वो नम रह जाते हैं.

अक्सर आप और हम बारिश से बचाने के लिए कपड़े घर के भीतर रस्सी पर सूखते रहते हैं. लेकिन क्या आप जानते हैं कि घर के अन्दर गीले कपड़े सुखाना यानि कई बीमारियों को आमंत्रण देना है. जी हां, गिले कपड़े या नम कपड़े न केवल दुर्गंध फैलाते बल्कि ये कई तरह के बैक्टीरिया को अपने अन्दर जन्म भी देते हैं.

घर के भीतर ऐसे कपड़ें और वातावरण अस्थमा के मरीजों के लिए बहुत खतरनाक हो सकता है, साथ ही नवजात शिशु की सेहत पर भी बुरा असर डालती है.

बता दें कि कपड़ें की गीले पन की वजह से घर के वातावरण में जीवाणु जन्म लेते हैं, जिनको हम देख नही सकते हैं. ऐसे लोग जिनकी रोग प्रतिरोधक क्षमता मजबूत है, उनपर जीवाणुओं का कोई असर नहीं होता लेकिन कमजोर रोग प्रतिरोधक क्षमता वाले लोगों को तुरंत कोई संक्रमण जकड़ लेता है. अस्थमा के मरीजों में अटैक की आशंका रहती है. जिन लोगों को त्वचा की बीमारियां हैं, उनके लक्षण और बिगड़ जाते हैं, स्वस्थ लोगों में भी त्वचा संक्रमण फैलने की आशंका रहती है.

बचाव के लिए करें ये उपाय-

  • कोशिश करें कि वॉशिंग मशीन खुली या हवादार जगह में रखें.
  • मशीन को बेडरूम या लिविंग एरिया से दूर रखा जाना चाहिए ताकि नमी न आए.
  • अलमारी में नमी न रहने दें.
  • समय-समय पर सफाई करें.
  • हल्के नम कपड़ों को कभी भी अलमारी में न रखें कि ये खुद सूख जाएंगे.