PM मोदी करेंगे चंबल के हैंगिंग ब्रिज का उद्घाटन, जानिए ब्रिज की पूरी कहानी

नई दिल्ली :  प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आज राजस्थान में कई प्रोजेक्ट्स का उद्घाटन करेंगे. जिसमें सबसे खास है कोटा के चंबल नदी पर बने हैंगिंग ब्रिज. आज हैंगिंग ब्रिज का उद्घाटन उदयपुर में PM मोदी करेंगे। इतना ही नहीं इस उद्घाटन समारोह को बड़े से स्क्रीन पर टेलीकास्ट किया जायेगा। जिसे कोटा में लोग देखेंगे. उद्घाटन के अलावा मोदी यहां पर रैली को भी संबोधित करेंगे.

बता दें कि चंबल नदी बना ये ब्रिज बिना किसी पिलर का 1.4 किमी लंबाई का है. इतना ही नहीं यह हैंगिंग ब्रिज पिछले नौ साल से बन रहा और अब जा के पूरा हुआ है. यह पहला ब्रिज है जिसे बनाने में आठ देशों के इंजीनियरों की तकनीक का इस्तेमाल किया गया है. वैसे देश का यह तीसरा हैंगिंग ब्रिज है. चंबल नदी का यह झूलता हुआ ब्रिज 277 करोड़ की लागत से बना है.

दरअसल चंबल में घड़ियाल और मगरमच्छ बड़ी तादात में पाए जाते हैं. इनके इलाके को क्रोकोडाइल सेंचुरी के नाम से भी जाना जाता है. इसलिए इस ब्रिज को बनाने के लिए एनवायरमेंट मिनिस्ट्री से अनुमति नहीं मिल पा रही थी. इसके बाद केंद्र की यूपीए सरकार ने कोरिया और जापान की मदद से बिना पिलर का ब्रिज बनाने का फैसला किया और 2008 में काम शुरु हुआ.

लेकिन 2009 में यह ब्रिज इंजीनियरों की लापरवाही से गिर गया और 48 लोगों की मौत इसके मलबे के नीचे दबने से हो गई और ब्रिज का काम रोक दिया गया. फिर बाद दोबारा इस ब्रिज बनाने का काम 2014 में शुरू हुआ.

जब प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी बटन दबाकर इसका उद्घाटन करेंगे तो दूसरी तरफ, कोटा के सांसद ओम बिड़ला यहां हवन-अनुष्ठान करेंगें ताकि पुल बनाते वक्त हादसे में जो 48 लोग मरे हैं, उसके प्रभाव को दूर किया जा सके.

Share Article

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *