डिप्टी कलेक्टर को महंगा पड़ा KBC का हिस्सा बनना

deputy-collector-got-trouble-after-taking-part-of-kbc

नई दिल्ली: छत्तीसगढ़ के मुंगेली जिले की डिप्टी कलेक्टर को छोटे पर्दे के सबसे चर्चित रिएलिटी शो बनेगा करोड़पति में पार्टिसिपेट भारी पड़ गया है. हालांकि, मुख्यमंत्री के हस्तक्षेप के बाद बात बन गई और शो में जीती हुई रकम का अब अनुराधा इस्तेमाल कर सकेगी।

आपको बता दें कि ‘कौन बनेगा करोड़पति’ के लिए सलेक्ट हुई अनुराधा को अमिताभ बच्चन के साथ हॉट सीट पर बैठने के लिए सामान्य प्रशासन विभाग ने अनुमति नहीं दी थी। आवेदन को अमान्य करने की सूचना सोशल मीडिया में वायरल होने के साथ ही सरकार के इस फैसले की जमकर आलोचना होने लगी।

आम लोगों के साथ ही राजनीतिक दलों के नेता भी इसकी आलोचना में जुट गए। विधायक अमित जोगी ने अपने फेसबुक पेज पर इस फैसले की कड़ी आलोचना की है।

यह था पूरा मामला

– अनुराधा ने इसके लिए आवेदन दिया था। जीएडी ने बिना कोई आधार बताए आवेदन को अमान्य कर दिया।
– ताज्जुब है कि सरकार से अनुमति नहीं मिलने का यह पत्र आवेदन देने के एक महीने बाद अनुराधा को मिला।
– इस समय तक अनुराधा केबीसी शो में शामिल होकर वापस आ चुकी थीं।
-दरअसल, मुंबई जाने के लिये अनुराधा ने मुंगेली कलेक्टर से अनुमति ली।
-कलेक्टर ने अनुराधा को मुख्यालय छोड़ने की अनुमति तो दे दी, लेकिन केबीसी में भाग लेने की अनुमति संबंधी आवेदन सामान्य प्रशासन विभाग को फारवर्ड कर दिया।
-शासन से अनुमति मिलने की उम्मीद में अनुराधा अपनी मां का अंतिम संस्कार के तुरंत बाद मुंबई रवाना हो गईं।
-मुंबई पहुंचकर बिग बी के साथ केबीसी खेलने का अपना सालों पुराना सपना पूरा कर लिया।

– डिप्टी कलेक्टर अनुराधा केबीसी में जीती हुई प्राइज मनी से अपने भाई का इलाज कराना चाहती हैं, जो कैंसर से पीड़ित है।
– अनुराधा विकलांग हैं और वॉकर के सहारे चलती है, लेकिन अपनी पढ़ाई के दम पर आज मुंगेली जिले की डिप्टी कलेक्टर हैं।