सिर्फ फैशन नहीं बढ़ता, मेहंदी लगाने से होता है हेल्थ बेनिफिट्स

Health benefits of Henna

नई दिल्ली : मेहंदी का नाम सुनते ही महिलाओं के चेहरे का चमक भी मेहंदी के रंग की तरह ही खिल जाता है. मेहंदी लगाने के लिए महिलाओं को सिर्फ बहाने चाहिए होते है. खासकर तीज-त्यौहार पर महिलाओं में मेहंदी रचवानें का क्रेज होता है. इतना क्रेज होता है कि घंटो लाइन में लगकर अपना नंबर आने इंतजार करती हैं. मेहंदी लगने के बाद जितना खूबसूरत लगता है उतना ही अच्छा सेहत के लिए भी होता है. जी हां, मेहंदी लगाने से शरीर की कई साड़ी बीमारियां जाती है. तो आइए जानते है मेहंदी के फायदें-

माइग्रेन : माइग्रेन की समस्या आजकल आम होती जा रही है. हर कोई सिर दर्द जैसी समस्या से परेशान है. तो रात को सोने से पहले 200 ग्राम पानी में सौ ग्राम मेहंदी के पत्तों को कूटकर भिगों ले. फिर सुबह उठते ही इस पानी को छानकर पिएं, दर्द से छुटकारा मिलेगा.

हाई ब्लूडप्रेशर : अगर आपको हाई ब्लूडप्रेशर (उच्चा रक्तचाप) की समस्या तो मेंहदी एक वरदान है. मेहंदी के पत्तों के पीसकर अपने पैरों के तलवों और हाथों पर लगाएं. इसके इस्तेमाल से बीपी कंट्रोल करने में काफी हद तक आराम मिलेगा.

चर्म रोग : मेंहदी चर्म रोग के लिए भी फायदेमंद है. अगर चर्म रोग की समस्या है तो मेंहदी के पेड़ की छाल को पीसकर काढा बना लें. फिर इसको सेवन लगभग 1 महीने तक करें. लेकिन ध्यान रहें कि इस प्रक्रिया का इस्तेमाल करते समय साबुन से परहेज रखें, नहीं तो उल्टा रिएक्शन हो सकता है.

गुर्दे का रोग : गुर्दों से जुड़ी कोई समस्या है. तो आधा लीटर पानी में पचास ग्राम मेहंदी के पत्तों को पीसकर डाल दे. फिर इस पानी को उबाल लें और छानकर पिएं.