चुनाव में खड़े होंगें जिग्नेश मेवाणी, बढ़ी कांग्रेस की मुश्किलें

jignesh-mewani-gujrat-assem

कांग्रेस पार्टी ने दलित वोटों को अपने खाते में लाने के लिए दलितों के बड़े नेता जिग्नेश मेवाणी को अपने पाले में ले लिया था और अब जिग्नेश ने चुनाव लड़ने का फैसला कर लिया है. बता दें कि जिग्नेश के चुनाव लड़ने में एक दिक्कत पेश आ रही है दरअसल वो गुजरात के वड़गांव से चुनाव लड़ेंगे, लेकिन उनके इस एलान से कांग्रेस की मुश्किलें बढ़ गई हैं क्योंकि वड़गांव सीट पर कांग्रेस के मनिभाई वाघेला पहले से मैदान में हैं और वो मज़बूत उम्मीदवार माने जाते हैं.

इस ऐलान के साथ जिग्नेश ने गैर भाजपाई दलों से अपने खिलाफ उम्मीदवार न उतारने की अपील की है. उनका कहना है कि आंदोलनकारी साथियों और युवा वर्ग की ये क्ख्‍वाहिश थी कि हम इस बार फासीवादी भाजपाइयों का सड़क के साथ-साथ चुनाव में भी मुक़ाबला करें और दबे-कुचले तबक़ों की आवाज बनकर विधानसभा जाएं.

गुजरात चुनाव के लिए कांग्रेस ने बीती रात अपनी तीसरी लिस्ट जारी कर दी. इस लिस्ट में 76 उम्मीदवारों के नाम हैं. लेकिन इस बार कई पुराने विधायकों का टिकट काट दिया गया है जिससे पार्टी के अन्दर काफी नाराजगी हो सकती है. इस बार कई एनी नेताओं को भी निराश होना पड़ा है जो पार्टी से टिकट की उम्मीद लगाए हुए बैठे थे.

उम्मीदवारों की तीसरी लिस्ट जारी होते ही कई नेताओं और पार्टी कार्यकर्ताओं में गुस्सा देखने को मिल रहा है ऐसे में किसी तरह के हंगामे से बचने के लिए पार्टी ने 14 उम्मीदवारों को फोन पर उनकी उम्मीदवारी पर मुहर लगने की जानकारी दी गई. इस सब के बावजूद भी लिस्ट जारी होते ही हंगामा हो गया है और पार्टी के कार्यकर्ताओं ने जगह-जगह तोड़फोड़ भी की है.

Read More on Political News: जब महिला का दर्द सुन नम हुईं राहुल गाँधी की आँखें, रुक कर गले लगाया

इस बार कांग्रेस पार्टी ने रणनीति के तहत कई नये और युवा चेहरों पर डाव खेला है तो ज़ाहिर सी बात है कि कुछ पुराने चेहरों को इस बार टिकट की दावेदारी से खुद को बाहर रखना पड़ेगा लेकिन इसका खामियाजा पार्टी को भुगतना पड़ सकता है और यह बात तो भविष्य में ही पता चलेगी की इस बार गुजरात में कांग्रेस की नई रणनीति काम करती है या नहीं.

सूत्रों ने बताया कि कालोल से विधायक बलदेवजी ठाकोर और कडी (सुरक्षित) सीट से रमेश चावड़ा को रविवार की शाम को पार्टी ने चुनाव लड़ने की सहमति दे दी. पार्टी के एक वरिष्ठ नेता ने बताया, ‘‘हम पहले ही 50 उम्मीदवारों को सहमति दे चुके हैं. उन्हें फोन पर उनके चयन की सूचना दी गई है.’’

You May also Like

Share Article

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *