रश्क-ए-क़मर पर… दुनिया का रक्स

नई दिल्ली (प्रवीण कुमार) : बॉलीवुड में अब लगता है अच्छे गानों का अकाल पड़ गया है. अब पहले जैसे सदाबहार गाने नहीं बनते, जिन्हें लोग लम्बे समय तक याद रख सकें. आजकल बॉलीवुड में नया ट्रेंड चल रहा है, पुराने गानों को रिमिक्स करके शोर—शराबे के साथ नए वर्जन में तैयार करने का. ये गाने कुछ ही दिन लोगों की ज़ुबान पर रहते हैं और फिर लोग इन्हें भूल जाते हैं. लेकिन पिछले कुछ समय से एक ऐसा गीत वायरल हुआ, जो है तो काफी पुराना, लेकिन आज भी लोग इस पर रक्स (नाच रहे है) कर रहे हैं. आपको याद होगा कि इस साल मार्च के महीने में सोशल मीडिया में एक वीडियो वायरल हुआ था, जिसमें चलती कार में एक लड़की रश्क —ए— क़मर गाने पर डांस कर रही है. इस वीडियो को तो पहले गुरमेहर कौर से जोड़ा गया, जिसके इस बयान के बाद विवाद हो गया था कि मेरे पापा को पाकिस्तान ने नहीं युद्ध ने मारा है. हालांकि बाद में ये वीडियो इस मुद्दे से इतर रश्क —ए— क़मर गीत को लेकर प्रसिद्ध हो गया.

रश्क —ए— क़मर  आज भी करोड़ों लोगों की ज़ुबां पर कायम है. यह गीत इस साल पहली बार किसी फिल्म का हिस्सा बना है. मिलन लूथरिया ने अपनी फिल्म बादशाहो में अजय देवगन और इलियाना डीकू्रज पर रोमांटिक अंदाज में इस गाने को फिल्माया, जिसके बाद यह करोड़ो लोगों के दिलों में उतर गया है. वैसे तो आज यह गीत करोड़ों लोगों की ज़ुबां पर है, लेकिन शायद ही बहुत लोगों को रश्क-ए— क़मर का मतलब पता होगा. दरअसल, रश्क का मतलब होता है ईर्ष्या और चांद को अरबी में क़मर कहते हैं. इस पूरे वाक्या यानि रश्क —ए— क़मर का मतलब होता है, जिससे चांद भी ईर्ष्या करने लगे ऐसी खूबसूरती.

आपको बता दें कि रश्क —ए— क़मर, पाकिस्तानी शायर फना बुलंदशहरी की रचना है. इसे पाकिस्तानी सू़फी गायक नूसरत फतेह अली खान ने पहली बार साल 1988 में संगीतबद्ध किया और अपनी आवाज़ दी. उस समय यह गाना दुनियाभर में काफी प्रसिद्ध हुआ था. उसके बाद इसे कई लोगों ने गाया. इस गाने की लोकप्रियता इतनी बढ़ी कि पाकिस्तान के साथ—साथ हिंदुस्तान में भी इसे खूब प्यार मिला. हाल में वायरल होने के बाद भी कई गायकों ने इसे अपने अंदाज में गाया है. आइए जानते हैं दुनियाभर के उन गायकों के बारे में जिनके द्वारा अलग-अलग अंदाज में गाया गया रश्क-ए— क़मर गाना यू-ट्‌यूब और सोशल मीडिया में धूम मचा रहा है.

रोजलीन साहू- रोजलीन साहू गायिकी की दुनिया का एक ऐसा नाम है, जिसके बारे में शायद बहुत लोगों को पता नहीं होगा. वे भुवनेश्वर की रहने वाली हैं. रोजलीन द्वारा गाए गए रश्क— ए— क़मर का वीडियो यू-ट्‌यूब पर खूब वायरल हुआ. इस गाने को गाते वक्त रोजलीन और उनकी अवाज़ इतनी खूबसूरत लग रही है कि लोग इसे देखना और सुनना खूब पसंद कर रहें हैं. आपको बता दें कि रोजलीन सोनी और ज़ी चैनल पर इंडियन आइडल और सा रे गा मा पा जैसे टीवी शो में भाग ले चुकी हैं. अब भी वे गीत- संगीत से जुड़े विभिन्न कार्यक्रमों और शो में हिस्सा लेती हैं. अपनी गायिकी के कारण वे अपने फैन्स के बीच लोकप्रिय हैं. सोशल मीडिया पर रोजलीन के अच्छे-खासे फॉलोवर्स हैं.

नेहा कक्कड़- गायिकी की दुनिया में नेहा कक्कड़ आज एक जाना-पहचाना नाम है. वे सोनू कक्कड़ की छोटी बहन हैं. नेहा बॉलीवुड इंड्रस्टी में सक्रिय हैं. उन्होंने प्यारी रिया के साथ मिलकर ज़ी चैनल पर सारेगामापा लिटिल चैंप्स में जब रश्क— ए— क़मर  गाया तो सभी लोग देखते रह गए. आपको जानकर हैरानी होगी कि नेहा कक्कड़ द्वारा टीवी शो में गाया गया रश्क— ए— क़मर फिल्म बादशाहों के बाद यू-ट्‌यूब पर सबसे ज्यादा (5 करोड़ से ज्यादा) बार देखा जाने वाला वीडियो है. इसके अलावा नेहा ने बॉलीवुड फिल्मों के लिए कई गाने गाए हैं. नेहा के हिट गानों में काला चश्मा, चलती है क्या 9 से 12, बद्री की दुल्हनिया, आ तो सही, माही वे, कर गई चुल्ल आदि शामिल हैं.

रबी पीरज़ादा- रबी पीरज़ादा दिखने में जितनी सुंदर हैं, उतनी ही खूबसूरत उनकी आवाज़ भी है. वे फिल्म अभिनेत्री और पॉप सिंगर हैं. अपनी गायिकी के जरिए वो लाखों लोगों को अपना दिवाना बना चुकी हैं. उनका जन्म 3 फरवरी 1991 को ब्लोचिस्तान (पाकिस्तान) के क्वेटा में हुआ था. वे पूर्व पाकिस्तानी सेना अधिकारी मेजर हुमायूं पीरज़ादा की बेटी है. रश्क— ए—क़मर  को उन्होंने पॉप स्टाइल में बहुत खूबसूरती से गाया है.

तुलसी कुमार- तुलसी कुमार का पूरा नाम तुलसी कुमार दुआ है. वे प्रसिद्ध गायक स्व. गुलशन कुमार दुआ की बेटी हैं. तुलसी भी अपने पिता की तरह बॉलीवुड में गायिका हैं, साथ ही वे अभिनेत्री भी हैं. उन्होंने कई बॉलीवुड फिल्मों के लिए गाने गाए हैं. हाल ही में उन्होंने फिल्म बादशाहों के लिए मशहूर गीत रश्क —ए— क़मर गाया है. उनके गाए इस गाने को खूब पसंद किया जा रहा है. चूंकि पहले से ही तुलसी की अच्छी फैन फॉलोइंग है, इसलिए भी इस हिट गाने के जरिए उन्होंने खूब वाहवाही बटोरी.

नसीबो लाल-  नसीबो लाल का जन्म 1970 में पाकिस्तान में हुआ था. वे पाकिस्तानी प्लेबैक सिंगर हैं. नसीबो लाल ने अपने करियर की शुरुआत बतौर आर्टिस्ट कोक स्टूडियो पाकिस्तान (सीजन 9)से की थी. उन्होंने पंजाबी, उर्दू और मारवाड़ी भाषाओं में कई गाने गाए हैं. उन्होंने भी रश्क —ए— क़मर गाना गाया है. एक एलबम में ज़ुनैद असगर के साथ मिलकर नसीबो लाल द्वारा गाए गए इस गीत को लोगों ने खूब पसंद किया.

ज़ुनैद असग़र- ज़ुनैद असग़र पाकिस्तान के सियालकोट (पंजाब) के रहने वाले हैं. उन्होंने रश्क—ए—कमर को अपने एक एलबम के जरिए गाकर दुनियाभर में वाहवाही बटोरी है. यू-ट्‌यूब पर उनके इस एलबम को 100 मिलियन से भी ज्यादा लोग देख चुके हैं. ज़ुनैद  सॉफ्ट ट्यून्स प्रोडेक्शन में म्यूज़िक प्रोड्‌यूसर और गीतकार हैं.

पवन सिंह – पवन सिंह भोजपुरी गायक और अभिनेता हैं. उन्होंने बड़ी तेजी से भोजपुरी इंड्रस्टी में अपनी पहचान बनाई है. गायक और अभिनेता दोनों रूप में वे भोजपुरी फिल्मों के सुपरस्टार हैं. रश्क— ए— क़मर गीत को पवन सिंह ने भोजपुरी स्टाइल में रिमिक्स करके गाया है. उनके द्वारा गाए गए इस गीत को लाखों लागों ने पसंद किया है. उनका भोजपुरी गीत लॉलीपोप लागे लू… इंटरनेशनल लेवल पर हिट है.

फादिया शबोरोज- मूल रूप से इस्लामाबाद की रहने वाली फादिया शबोरोज दिखने में जितनी खूबसूरत हैं, उनकी गायिकी का अंदाज भी उतना ही अच्छा है. उन्होंने भी रश्क —ए— क़मर गीत गाया है. उनके द्वारा गाए गए इस गीत को खूब सराहा जा रहा है. यू-ट्‌यूब पर उनके इस गीत को करोड़ों लोगों ने देखा है. ब्रिटिश पाकिस्तानी फादिया उर्दू, पंजाबी, पॉप, क्लासिकल, गज़ल और सू़फी गायिका भी है. वे अभिनय और मॉडलिंग भी करती हैं. इतना ही नहीं फादिया शबोरोज लेखिका भी हैं.

सोनू कक्कड़- 20 अक्टूबर 1986 को उत्तराखंड के ऋृषिकेश जन्मी सोनू कक्कड़ पेशे से गायिका हैं. साल 2014 में सोनू कक्कड़ का एक एलबम आया था, अरबन मुंडा (Urban Munda). इसमें उन्होंने रश्क— ए— क़मर को एक अलग अंदाज में गाया था. उनके द्वारा गाए गए इस गीत को करोड़ों लोगों ने पसंद किया. वे बॉलीवुड में कई फिल्मों के लिए गाने गा चुकी हैं. इसके अलावा कई एलबम वीडियों में भी उन्होंने गीत गाए हैं.

बाबा सहगल- बाबा सहगल ने पॉप और पंजाबी गानों के जरिए 1990 में गीत-संगीत की दुनिया में कदम रखा. वे उत्तर प्रदेश के रहने वाले हैं. बाबा सहगल सिंगर होने के साथ अभिनेता भी है. उन्होंने बॉलीवुड के लिए कई गाने अलग-अलग तरीके से गाए हैं. शायद यही कारण है कि उन्होंने रश्क—ए—क़मर को भी दूसरों से अलग हटकर गाने के बारे में साचा. उन्होंने घर बैठकर ही एक तबले के जरिए यह गाना गाकर यू-ट्‌यूब पर अपलोड किया. सहगल के इस वीडियो को भी खूब पसंद किया जा रहा है.

वृधी सैनी – वृधी सैनी एक उभरती हुई गायिका हैं. हाल ही में उन्होंने एनटीवी पर वॉइस किड्‌स इंडिया शो में भाग लिया था. इस कार्यक्रम में भाग लेने के बाद वे लाखों लोगों के बीच फेमस हुईं. वृधी ने अपने एक एलबम में रश्क— ए— क़मर को पॉप म्यूज़िक स्टाइल में गाया है. उनका यह वीडियो लाखों लागों ने पसंद किया है.

सारा रज़ा खान- सारा रज़ा खान पाकिस्तानी गायिका हैं. क्लासिकल म्यूज़िक और ग़ज़ल गायिकी में उन्हें महारत हासिल है. सारा रज़ा ने रश्क— ए— क़मर को एक ग़ज़ल के रूप में गाया है. उनके द्वारा गाए गए इस गीत को खूब वाहवाही मिली है. उन्होंने अपनी गायिकी की शुरुआत भारतीय टीवी शो सा रे गा मा पा चैलेंज-2009 से की थी. इस शो में वे एक उभरती हुई गायिका के रूप में सामने आई थीं. सारा रज़ा पाक टीवी की रियलटी शो ब्राइड स्टार की विजेता रह चकुी हैं. वे अक्सर रियल्टी शो में भाग लेती रहती हैं.

हसीब मुबाशिर- हसीब मुबाशिर ने रश्क —ए—क़मर को स्लो वर्जन में बड़े ही दर्द भरे अंदाज में गाया है. हसीब के इस वीडियो को भी लोगों ने खूब पसंद किया है. हसीब मूल रूप से लाहौर के रहने वाले है. वे हिप-हॉप/पॉप में माहिर हैं. साथ ही वे एक बैंड के मेंबर भी हैं.

 

Share Article

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *