कभी बीवी की लाश को कंधे पर ढोया था, आज पूरी तरह से बदल गयी है जिंदगी

dana-manjhi-life-changed-now-he-have-new-house-new-life

कुछ महीने पहले सोशल मीडिया पर वायरल हुई वो तस्वीर तो आपको याद ही होगी जिसमें एक शख्स अपनी बीवी की लाश को ले जाता हुआ दिखाई दे रहा था. इस तस्वीर ने पूरे देश के मीडिया में सुर्खियाँ पाई थीं. दरअसल ओडिशा के दाना मांझी ने पैसों के अभाव में 10 किलोमीटर तक पैदल कंधे पर अपनी पत्नी के शव को ढोया था जिसके बाद वो सुर्ख़ियों में आ गये थे, लेकिन अब दाना मांझी की जिंदगी पूरी तरह से बदल चुकी है.

बता दें कि पिछले साल अगस्त में पैसे की तंगी की वजह से मांझी अपनी बेटी के साथ पैदल ही पत्नी अमांग देई का शव लेकर पैदल 10 किलोमीटर चला था. जब यह तस्वीर सोशल मीडिया पर वायरल हुई तब लोगों ने इसे असंवेदनशील बताया और ये मामला देश का ज्वलंत मुद्दा बन गया. लेकिन इस एक वाकये ने मांझी की जिंदगी बदल कर रख दी.

इस असंवेदनशील घटना के बाद सरकार हरकत में आ गयी और उसने मांझी की मदद करने का मन बना लिया. यहाँ तक की आम जनता भी इस घटना से इतनी दुखी थी कि लोगों ने दाना मांझी को आर्थिक सहायता मुहैय्या कराई जिसके चलते आज मांझी एक आम जिंदगी जी पा रहे हैं. बता दें कि हाल ही में उसने कालाहांडी जिले के भवानीपाटा में हॉन्डा की नई बाइक ली. जिसे उसने 65 हजार रुपये से खरीदा. बाइक खरीदने के बाद मांझी उसी रोड पर गया जहां से वह अपनी पत्नी का शव ले गया था.

Read Also: दिल्ली में शर्मनाक घटना, महिला से मारपीट के बाद निर्वस्त्र कर घुमाया

बता दें कि बहरीन के प्रधानमंत्री खलीफा बिन सलमान अल खलीफा ने भी मांझी को 9 लाख रूपए दिए. इसके अलावा प्रधानमंत्री ग्रामीण आवास योजना के तहत उसे घर भी मिला. सरकार और लोगों से मिली मदद के बाद आज मांझी की जिंदगी पूरी तरह से बदल चुकी है और अब उसकी तीनों बेटियां भुवनेश्वर के एक बड़े स्कूल में पढ़ रही हैं. इन तीनों को स्कूल ने मुफ्त शिक्षा की सुविधा दी है. उसका अंगनवाड़ी में नया घर भी बन रहा है. बता दें कि हाल ही में मांझी ने तीसरी शादी की है और जल्द ही वह फिर से पिता बनने वाला है.

Share Article

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *