मरा हुआ बताकर परिवार को पैकेट में सौंपा बच्चा, चल रही थीं सांसे

delhi max hospital did a blunder mistake

देश की राजधानी के एक नामी अस्पताल से चौंकाने वाला मामला सामने आया है, यहाँ पर शालीमार बाग़ इलाके में स्थित एक अस्पताल ने पैदा हुए जुड़वा बच्चों को मरा हुआ बताकर उनके परिवारजनों के हवाले कर दिया इसके बाद जब परिजन इन बच्चों का अंतिम संस्कार करने पहुंचे तो दो में से एक बच्चे की साँसे चल रही थीं. इसके बाद परिवार ने दूसरे अस्पताल का रुख किया और अब यहाँ पर नवजात बच्चे का इलाज चल रहा है.

यह मामला गुरुवार का है। परिवार जब बच्चों को अंतिम संस्कार के लिए लेकर जा रहा था तो एक नवजात में अचानक हलचल देखी गई। उसे दूसरे हॉस्पिटल ले जाने पर पता चला कि बच्चा जिंदा है। फिलहाल, मां और बच्चे का इलाज चल रहा है। शिकायत मिलने पर दिल्ली पुलिस ने शुक्रवार को कहा कि मामला गंभीर है। हम कार्रवाई करेंगे। न्यूज एजेंसी के मुताबिक, घटना शालीमार बाग के मैक्स हॉस्पिटल की है। हॉस्पिटल का कहना है कि यह रेयर घटना है, फैमिली की हम पूरी मदद करेंगे।

Read More on Crime News: ग्रेटर नोएडा के फ़्लैट में मिली मेड की लाश, परिजनों ने लगाया हत्या का आरोप

जानकारी के मुताबिक़ दिल्ली के प्रवीण कुमार ने गुरुवार को डिलिवरी के लिए पत्नी को मैक्स हॉस्पिटल में एडमिट कराया था। यहां महिला ने जुड़वां बच्चों को जन्म दिया। बताया जा रहा है कि एक बच्चे की मौत जन्म के तुरंत बाद हो गई। जबकि दूसरा नवजात जिंदा था। डॉक्टर्स ने उसकी हालत को गंभीर बताकर नर्सरी में रखने की बात कही। कुछ घंटे बाद डॉक्टर्स ने उसे भी डेड डिक्लेयर कर दिया। दोनों को एक पैकेट में रखकर फैमिली को सौंप दिया।