आखिर क्यों बिना पैंट पहने ही मेट्रो में सवार हुए हज़ारों लड़के लड़कियां

no-pants-day-thousands-of-thrill-seekers-enjoy-in-london

न्यूयॉर्क हर साल की तरह इस साल भी ‘नो पैंट्स डे’ फ्लैश मॉब का आयोजन किया गया जिसमें हज़ारों युवकों और युवतियों ने हिस्सा लिया. बता दें कि इस मॉब में शामिल होने वाले युवक युवतियों बिना पैंट्स पहने ही घर से बाहर निकल जाते हैं. नो पैंट्स डे की शुरुआत न्यूयॉर्क में आज से 17 साल पहले हुई थी. लेकिन अब यह 60 शहरों में होने लगा है, जहां लड़के और लड़कियां बिना पैंट्स के मेट्रो में सफर करते हैं.

बता दें कि इस मॉब में शामिल होने वाले लोग बिना किसी लाज शर्म के अपनी पैंट्स के बगैर ही शहर के भीड़-भाड़ वाले इलाकों में घूमते है. इन लोगों में सिर्फ युवा ही नहीं बल्कि बुज़ुर्ग भी शामिल रहते हैं ऐसे में नज़ारा देखते ही बनता है. लेकिन इस दौरान खास बात यह रहती है कि आस पास से गुजरने वाला कोई भी शख्स इन लोगों को देखकर कोई भद्दे कमेन्ट या कोई टिप्पणी नहीं करता है और आम दिनों की तरह ही ये लोग बर्ताव करते हैं.

Read Also: नये साल के जश्न के दौरान कैमरे में कैद हुई ऐसी चीज़, देख कर डर जाएंगे आप

लंदन में 400 से अधिक लोगों ने रविवार को इस मॉब में हिस्सा लिया, जबकि शहर का तापमान 3 डिग्री पर पहुंच गया था. इस इवेंट की शुरुआत बहुत ही मामूली बात से हुई थी, वह था- लोगों को हंसाना. इंप्रोव एवरीह्वेयर नाम के प्रैंक कलेक्टिव इसका आयोजन करता है. उनका कहना है कि अजनबी यात्री किसी मेट्रो स्टेशन पर ट्रेन में सवार होते हैं, सर्दियों के मध्य में वह भी बिना पैंट के.