गुनाह

गुरुग्राम के बाद अब दिल्ली में स्कूल के टॉयलेट में मिली छात्र की लाश

student found dead in delhi school toilet
Share Article

student found dead in delhi school toilet

देश के स्कूलों में पिछले 6 महीनों में बच्चों के साथ ऐसी घटनाएं हो रही हैं जिनमें बच्चे किसी शातिर अपराधी की तरह बर्ताव कर रहे हैं, ये बता दें कि इन घटनाओं की शुरुआत पिछले साथ सितंबर महीने से शुरू हुईं जब गुरुग्राम के एक स्कूल में पढ़ने वाले छात्र प्रद्युम्न की हत्या कर दी गयी. इस घटना के बाद अभी हाल ही में लखनऊ के स्कूल में भी ऐसा ही वाकया हुआ था लेकिन अब देश की राजधानी दिल्ली के एक स्कूल के टॉयलेट में एक छात्र की लाश मिली है.

बता दें कि यह मामला उत्तर-पूर्व दिल्ली के करावल नगर के एक प्राइवेट स्कूल का है जहाँ पर 14 वर्षीय लड़के को उसके स्कूल के दोस्तों ने इतना पीटा की उसकी मौत हो गई। इस बच्चे की लाश गुरुवार सुबह टॉयलेट मिली थी। मृतक 9वीं कक्षा का छात्र है जिसका नाम तुषार है. तुषार सादत नगर स्थित जीवन ज्योति पब्लिक स्कूल में 9वीं कक्षा का छात्र था। गुरुवार सुबह वह रोज की तरह घर से स्कूल जाने के लिए निकला था। वह स्कूल पहुंचा भी और करीब साढ़े दस बजे छात्रों ने उसे स्कूल के बाथरूम में पड़े देखा।

सूचना मिलने पर स्कूल प्रशासन उसे लेकर जीटीबी अस्पताल पहुंचा, जहां डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया। परिजनों का आरोप है कि कुछ छात्रों से झगड़ा होने के बाद उसे स्कूल के छात्रों ने पीट-पीटकर मौत के घाट उतार दिया गया। वहीं स्कूल प्रशासन ने छात्र की मौत को लेकर एक अजीब बयान दिया है कि छात्र को बार-बार दस्त आ रहे थे। जिसकी वजह से वह अचेत हो गया और उसकी मौत हो गई। खजूरी खास थाने की पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज मामले की जांच आरंभ कर दी है। पुलिस को सीसीटीवी कैमरों में तुषार के टॉयलेट में जाने के बाद कुछ छात्र टॉयलेट में जाते दिख रहे हैं। पुलिस उन छात्रों से पूछताछ कर रही है।

Read Also: दिल्ली: द्वारका में तेज़ धमाके के साथ फटी धरती, बाहर निकली ये चौंकाने वाली चीज़

तुषार परिवार के साथ करावल नगर इलाके में तुकनीर नगर के गली नंबर-3 में रहता था। इसके परिवार में पिता सुनील कुमार और मां निशा है। तुषार अपने परिवार का इकलौता बच्चा था। इसके पिता एमसीडी में चतुर्थ श्रेणी कर्मचारी हैं। परिजनों को जीटीबी अस्पताल से टीचर्स ने तुषार की तबीयत खराब होने की सूचना दी गई थी। अस्पताल पहुंचने पर पता चला कि उसकी मौत हो चुकी है। परिजनों का आरोप है कि तुषार की मौत साढ़े दस हो गई थी, लेकिन स्कूल ने जीटीबी अस्पताल से इसकी सूचना 12 बजे दी गई। पुलिस इस मामले की जांच के लिए सीसीटीवी फुटेज तलाश रही है।

Sorry! The Author has not filled his profile.
×
Sorry! The Author has not filled his profile.

You May also Like

Share Article

Comment here