डाटा लीक पर जुकरबर्ग ने मानी गलती 

फेसबुक सीईओ मार्क जकरबर्ग ने डाटा लीक को लेकर अपनी गलती स्वीकार की है. उन्होंने कहा कि डाटा सीक्रेसी पर हमारी कंपनी ने गलती की है. हम जल्द ही पर्सनल डाटा के गलत इस्तेमाल को रोकने के लिए जरूरी कदम उठाएंगे. जुकरबर्ग ने कहा कि फेसबुक के प्लेटफॉर्म पर जो होता है, उसके लिए मैं ही जिम्मेदार हूं. डाटा लीक रोकने के लिए मैं काफी गंभीर हूं्. हम डाटा लीक रोकने में असफल रहे हैं. हमने गलती की है. हम जरूरी कदम उठाएंगे और हम ऐसा कर रहे हैं.

अमेरिका में 5 करोड़ फेसबुक यूजर्स का डाटा चुराकर राष्ट्रपति चुनाव में इस्तेमाल किया गया था. यह खबर सामने आने के बाद अमेरिका की राजनीति में बवाल मच गया था. बाद में भारत में भी यह मामला उठा. भारत में 20 करोड़ फेसबुक यूजर्स हैं.

कानून मंत्री रविशंकर प्रसाद ने आरोप लगाया कि कांग्रेस ने 2019 का चुनाव जीतने के लिए डाटा चोरी की आरोपी   कैंब्रिज एनालिटिका की सेवाएं ली थी. हम चुनाव प्रक्रिया को प्रभावित करने की कोशिश बर्दाश्त नहीं करेंगे. अगर जरूरत पड़ी तो फेसबुक के सीईओ मार्क जकरबर्ग को भी देश में बुलाया जाएगा.

राहुल गांधी ने भी कानून मंत्री के इस आरोप का ट्विटर पर जवाब दिया. उन्होंने ट्विट किया कि इराक में 39 भारतीयों की मौत हो गई. सरकार जमीन पर आ गई. उनका झूठ पकड़ा गया. मीडिया को मुद्दा मिल गया और 39 भारतीयों का मामला रडार से गायब हो गया.