भाजपा में शामिल हुए सपा से राज्यसभा टिकट नहीं मिलने से नाराज नरेश अग्रवाल


नरेश अग्रवाल भाजपा में शामिल हो गए हैं, वे समाजवादी पार्टी से राज्यसभा टिकट नहीं मिलने के कारण नाराज बताए जा रहे थे. उत्तर प्रदेश में सपा के 47 विधायक हैं, इसलिए वो केवल किसी एक उम्मीदवार को राज्यसभा भेज सकती है. ऐसे में पार्टी ने नरेश अग्रवाल की जगह जया बच्चन को राज्यसभा के लिए तरजीह दी. दिल्ली में भाजपा मुख्यालय पहुंचकर उन्होंने केंद्रीय मंत्री पीयूष गोयल और प्रवक्ता संबित पात्रा की मौजूदगी में औपचारिक रूप से भाजपा की सदस्यता ग्रहण की.

खबरों के मुताबिक, सपा से टिकट नहीं मिलने से नाराज अग्रवाल ने भाजपा की टॉप लीडरशिप से संपर्क साधा और वहां से हरी झंडी मिलने के बाद पार्टी बदल ली. भाजपा में शामिल होने के बाद नरेश अग्रवाल ने खुलकर जया बच्चन से अपनी नाराजगी जाहिर की. उन्होंने कहा कि फिल्मों में काम करने वाली से मेरी हैसियत कम कर दी गई, उनके नाम पर हमारा टिकट काटा गया. मैंने इसको उचित नहीं समझा. मैं भाजपा में किसी शर्त पर नहीं आया और न ही राज्यसभा टिकट की मांग की है.

नरेश अग्रवाल का ताल्लुक उत्तर प्रदेश के हरदोई जिले से है. नरेश अग्रवाल हरदोई से ही 1980 में पहली बार कांग्रेस के टिकट पर विधायक बने थे. बाद में वे कई अन्य दलों से होते हुए समाजवादी पार्टी में पहुंचे. उन्होंने कुछ अन्य नेताओं के साथ मिलकर वर्ष 1997 में लोकतांत्रिक कांग्रेस नाम से एक नई पार्टी भी बनाई थी, जब यूपी में कल्याण सिंह की सरकार को विश्वास मत हासिल करना था.