ट्रम्प-उन की हो सकती है सशर्त मुलाकात 

अमेरिका ने कहा है कि नॉर्थ कोरिया अगर परमाणु हथियारों और मिसाइलों का परीक्षण रोक देता है, तभी डोनाल्ड ट्रम्प और किम जोंग की मुलाकात संभव है. अमेरिका ने उम्मीद जताई है कि नॉर्थ कोरिया इन शर्तों को मान लेगा. नॉर्थ कोरिया के शासक किम जोंग ने ट्रम्प को मुलाकात के लिए न्योता भेजा था.

व्हाइट हाउस की प्रेस सेक्रेटरी सारा सेंडर्स ने इस मुलाकात पर सहमति जताई है. इसके साथ ही उन्होंने कहा कि नॉर्थ कोरिया ने जो तीन वादे किए हैं, अगर वे इसे पूरा करते हैं, तो यह मुलाकात जरूर होगी. उन्होंने कहा कि नॉर्थ कोरिया अपना परमाणु कार्यक्रम बंद करे. इसी कारण अमेरिका ने नॉर्थ कोरिया पर प्रतिबंध लगाए थे.

साउथ कोरिया के एक प्रतिनिधिमंडल ने हाल में नॉर्थ कोरिया की यात्रा की थी. यही प्रतिनिधिमंडल नॉर्थ कोरिया का एक प्रस्ताव लेकर अमेरिका भी गया था. प्रतिनिधिमंडल ने डोनाल्ड ट्रंप से कहा कि किम जोंग ने उन्हें मीटिंग का निमंत्रण दिया है. इसके बाद ट्रम्प ने भी मई में नॉर्थ कोरिया के तानाशाह से मिलने की सहमति जताई. इस मुलाकात के लिए साउथ कोरिया ने मध्यस्थ की भूमिका निभाई है. दोनों नेताओं के बीच ये पहली मुलाकात होगी.