महिला की कब्र से आ रही थी आवाज़, 11 दिन बाद खुदाई हुई तो लोग हो गये हैरान

Share Article

tomb

ब्राजील में एक महिला की मौत का हैरान करने वाला मामला सामने आया है. इस अजीबो-गरीब मामले के बारे में जानकर आप भी दंग रह जाएंगे. जी हां, यहां एक महिला को मरा मानकर उसे दफना दिया गया था, लेकिन कुछ ऐसा हुआ कि 11 दिन बाद उसका कब्र खोद कर उसे ताबूत निकाला गया.

खबरों के मुताबिक बता दें कि 37 वर्षीय मृतक महिला का नाम रॉसएंजेला अल्मीडा डॉस सैंटोस बताया गया है. रॉसएंजेला को कुछ दिन पहले थकावट की वजह से अस्पताल में भर्ती कराया गया था. अस्पताल में भर्ती होने के करीब एक सप्ताह बाद डॉक्टरों ने महिला को मृत घोषित कर दिया और उसका शव परिवार वालों को सौंप दिया था.

डॉक्टर्स ने महिला की मौत की वजह सेप्टिक शॉक बताई थी. इसके बाद परिवार वालों ने अगले दिन महिला को दफना दिया था. बाद में कब्रिस्तान के पास खेल रहे कुछ बच्चों ने एक शख्स को कब्र से आवाज आने के बारे में बताया.

ये भी पढ़ें: इस बाजार में सरेआम बिकती है लड़कियां और बनती हैं दुल्हन

खबरों के मुताबिक, शख्स ने पहले बच्चों की बात को मजाक समझा, लेकिन कब्र के पास जाने के बाद वह खुद हैरान रह गया. तुरंत महिला के परिवार वालों को कब्र से आने वाले शोर के बारे में बताया गया. महिला को दफनाने के करीब 11 दिन बाद यानी 9 फरवरी को कब्र खोदकर ताबूत को निकाला गया.

कब्रिस्तान पहुंचने वालों लोगों में से किसी ने इस पूरी घटना का वीडियो बना लिया। वीडियो में साफ सुना जा सकता है कि कुछ लोग एम्बुलेंस बुलाने के लिए कह रहे हैं, लेकिन ताबूत बाहर निकालने के बाद जो दिखा, वह वाकई में दिल दहला देने वाला था. रॉसएंजेला अल्मीडा का ताबूत से बाहर निकलने का संघर्ष साफ दिखाई दे रहा था. ताबूत पर उसके नाखूनों के गहरे निशान और ताबूत के अंदर फैला खून सब बयां कर रहा था, लेकिन ताबूत बाहर निकाने जाने पर महिला जिंदा नहीं थी.

पुलिस इस घटना की जांच में जुट गई है. अस्पताल के डॉक्टरों और पड़ोसियों से पूछताछ की जा रही है. हालांकि, महिला के परिवार वाले इस लापरवाही के लिए किसी को जिम्मेदार नहीं मान रहे हैं. यहां तक कि आरोपी अस्पताल प्रशासन भी जांच में पुलिस की मदद कर रहा है.

You May also Like

Share Article

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *