आरक्षण के विरोध में सवर्णों का भारत बंद: बिहार के आरा में पथराव और गोलीबारी


आरक्षण के विरोध में सवर्णों द्वारा बुलाए गए भारत बंद का असर दिखने लगा है. बिहार के कई जिलों से हंगामे की खबरें आ रही हैं. पटना, आरा, मुजफ्फरपुर और शेखपुरा समेत कई शहरों में बंद समर्थक प्रशासन पर हावी दिख रहे हैं. आरा में बंद समर्थकों पर गोली चलाने की खबर है, हालांकि इस घटना में कोई हताहत नहीं हुआ है. गोली चलाने वाले घटनास्थल से पुलिस को कई खाली खोखे मिले हैं. इसके अलावा आरा के ही गिरजा मोड़ पर बंद समर्थकों पर पथराव हुआ है. इसके अलावा भोजपुर जिले में भी 28 जगहों पर बंद समर्थकों ने सड़क पर आगजनी और हंगामा किया है.

राजधानी पटना में भी हंगामे की खबर है. सगुना मोड़ पर बंद समर्थकों ने आगजनी की है वहीं फतुहा में सड़कें जाम की गई हैं. बंद के कारण आरा के वीर कुंवर सिंह विश्वविद्यालय में लॉ की परीक्षा स्थगित करनी पड़ी है. नालंदा में हिलसा के पास बंद समर्थकों ने ट्रेन रोकी. वहीं मुजफ्फरपुर, बक्सर, शेखपुरा, नालंदा, कैमूर, दरभंगा, वैशाली, बेगुसराय और छपरा में भी बंद समर्थकों ने आगजनी और सड़कें जाम की है. बिहार के अलावा राजस्थान के झालावाड़ में भी बंद समर्थकों ने बाइक रैली निकाली और यहां ज्यादातर बाजार बंद रहे.

गौरतलब है कि पहली बार सोशल मीडिया के जरिए ऐसे बंद की अपील की गई है. इस बंद की आशंका को देखते हुए गृह मंत्रालय ने मंगलवार को ही इसे लेकर अलर्ट जारी कर दिया था. सरकार नहीं चाहती कि इस बंद की हालत भी 2 अप्रैल वाले बंद जैसी हो, जिसमें हुई हिंसा में 17 लोगों की मौत हो गई थी. दलितों ने एससी-एसटी को लेकर सुप्रीम कोर्ट के फैसले के खिलाफ 2 अप्रैल को भारत बंद का आह्वान किया था, जिसमें मध्य प्रदेश और उत्तर प्रदेश समेत 10 राज्यों में हुई हिंसा में 17 लोगों की मौत हो गई थी.

You May also Like

Share Article

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *