कठुआ गैंगरेप: कोर्ट में पेश किए गये 8 आरोपी, अब SC जाएगा पीड़ित परिवार

kathua-gangrape-murder-cjm-court-hearing

कठुआ गैंगरेप मामले में आरोपियों के खिलाफ आज कठुआ के CJM कोर्ट में सुनवाई हुई. अब इस मामले में अगली सुनवाई 28 अप्रैल को होगी. कोर्ट में सुनवाई के दौरान आज इस मामले के सभी आठ आरोपियों को पेश किया गया. वहीं पीड़िता के परिवार को डर है कि निचली अदालत में इस केस की ईमानदारी से सुनवाई नहीं होगी और उन्हें इंसाफ नहीं मिलेगा. इसलिए उन्होंने सुप्रीम कोर्ट का भी दरवाजा खटखटाया है. और यहां दोपहर दो बजे सुनवाई होगी.

बता दें कि यह मामला बेहद ही संवेदनशील है, देश भर में इस बलात्कार और हत्या का जमकर विरोध किया जा रहा है ऐसे में मामले की कार्रवाई तेज़ी से की जा रही है लेकिन इसी भीच पीड़ित परिवार का प्रतिनिधित्व कर रहीं अधिवक्ता दीपिका सिंह राजावत ने कहा कि मामले की सुनवाई कठुआ की अदालत में होने पर उनकी उनकी जान को ख़तरा हो सकता है क्योंकि बहुत से लोग उनके खिलाफ है और अगर मामले की सुनवाई होती है तो इससे उनकी जान को ख़तरा हो सकता है.

कठुआ केस के मुख्य आरोपी सांजी राम ने कहा कि उसे साजिशन फंसाया जा रहा है. कठुआ कोर्ट में आज उसने नार्को टेस्ट कराए जाने की मांग की. उसने कहा कि इससे सही बातें निकलकर सामने आ जाएंगी. बता दें कि सांजी राम पर आरोप है कि उसने की इस बच्ची से बलात्कार और ह्त्या की साज़िश रची थी.

Read Also: जब बेटियां बचेंगी तभी तो पढ़ेंगी: अब रोहतक की नहर में मिली बच्ची की लाश

इस मामले में आज कोर्ट में पेश किए गये सभी आरोपियों पर आरोप है कि उन सभी ने आठ साल की लड़की को जनवरी में एक सप्ताह तक कठुआ जिले के एक गांव के मंदिर में बंधक बनाकर रखा गया था, इस दौरान उसे नशीला पदार्थ देकर उसके साथ बार-बार बलात्कार किया गया और बाद में उसकी हत्या कर दी गई थी. इन सभी आरोपियों में एक नाबालिग भी शामिल है जिसके खिलाफ एक अलग आरोपपत्र दायर किया गया है.