अब Facebook पर नहीं चलेगा LIVE सुसाइड और मर्डर के वीडियो

facebook-live

फेसबुक अक्सर अपने यूजर्स के लिए कुछ ना कुछ नया करने की कोशिश करता रहता है. ऐसे में अब फेसबुक लाइव वीडियो के विश्लेषण के खुद अपनी चिप बना रहा है. इस विश्लेषण का दावा है कि चिप का इस्तेमाल कर फेसबुक पर अपलोड होने वाले सुसाइड और मर्डर के लाइव वीडियो को रोका जा सकता है.

फेसबुक के मुख्य आर्टिफिशियल इंटेलीजेंस वैज्ञानिक यान लेकन ने बताया कि सोशल मीडिया कंपनी अपनी चिप्स खुद बना रहा है. इससे फेसबुक पर शेयर होने वाले रियल टाइम लाइव वीडियो का विश्लेषण करना और उन्हें फिल्टर करना आसान हो जाएगा.

पेरिस में आयोजित विवा टेक्नोलॉजी इंडस्ट्री कांफ्रेंस के दौरान लेकन ने कहा कि कल्पना करते हैं कि कोई यूजर अपनी खुदकुशी या हत्या को रिकॉर्ड करने के लिए फेसबुक लाइव का इस्तेमाल करता है. लेकिन ऐसे वीडियो कंटेंट को हम रोकना चाहते हैं. इसलिए कंपनी इस प्रकार के वीडियो को रोकने के लिए खुद का चिप बना रही है.

ये भी पढ़ें: अब बिना इंटरनेट इस्तेमाल कर सकते हैं Gmail, गूगल ने दिया खास तोहफा

फेसबुक सुसाइडल टेंडेंसी वाले यूजर की पहचान करने और रोकने के लिए पहले ही एआई नेटवर्क विकसित कर चुका है. यह सॉफ्वेयर यूजर के पोस्ट या कमेंट में मौजूद कुछ शब्दों को स्कैन करता है. जैसे, आॅर यू ओके? कैन आई हेल्प यू? इसी तरह की एआई चिप अब सुसाइड और मर्डर वाले लाइव वीडियो को रोकेगी. चूंकि यह फेसबुक की अपनी चिप होगी इसलिए वह तेजी से और प्रभावी रूप से ऐसे कंटेंट को पकड़ सकेगी. लेकन की मानें तो इस नेटवर्क के जरिये अब फेसबुक बेहतर तरीके से सुसाइड टेंडेंसी वाले लोगों की पहचान कर सकेगा.