केरल, कर्नाटक से होते हुए कोलकाता पहुंचा जानलेवा निपाह, सैनिक की मौत


जानलेवा निपाह वायरस केरल और कर्नाटक के बाद अब पश्चिम बंगाल की राजधानी तक कोलकाता पहुंच गया है. इसके संक्रमण से अलीपुर के कमांड अस्पताल में भर्ती एक सैनिक की मौत होने की खबर आई है. सेना ने इसे लेकर आधिकारिक जानकारी दी है कि रविवार को जवान सीनू प्रसाद की मौत हो गई. सीनू मूल रूप से केरल के रहने वाले थे और अभी पूर्वी क्षेत्रीय मुख्यालय फोर्ट विलियम में तैनात थे. बताया जा रहा है कि केरल स्थित अपने गांव में रहने के दौरान ही उन्हें वायरल बुखार हो गया था, जिसके बाद संभावित निपाह संक्रमण की वजह से बेहतर इलाज के लिए उन्हें 20 अप्रैल को कोलकाता के आर्मी कमांड अस्पताल में भर्ती कराया गया था.

सेना की तरफ से बताया गया है कि निपाह से मौत की पुष्टि के लिए मृत सैनिक के शरीर से नमूने लेकर नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ वायरोलॉजी में जांच के लिए भेजा गया है. गौरतलब है कि कोलकाता के बेलियाघाटा आइडी अस्पताल में संभावित निपाह संक्रमण के तीन और पीड़ित इलाजरत हैं. बताया जा रहा है कि इनमें से दो कर्नाटक में काम करने गए थे, जो निपाह की चपेट में आ गए. केरल से शुरू हुए निपाह के कुछ मामले तेलंगाना में भी सामने आ चुके हैं. केवल केरल में इस खतरनाक वायरस से अब तक 13 लोगों की मौत हो चुकी है, वहीं करीब 200 संदिग्ध मरीजों का इलाज चल रहा है.

निपाह के बढ़ते दायरे को देखते हुए इसे लेकर बिहार, हरियाणा और सिक्किम सहित कई राज्यों में हाईअलर्ट जारी किया गया, साथ ही लोगों को इसके प्रति जागरुक किया जा रहा है. केरल सरकार ने इसे लेकर पयर्टकों को कोझिकोड, मलप्पुरम, वायनाड और कन्नूर जिलों की यात्रा न करने की सलाह दी है. निपाह की चपेट में आए लोगों का इलाज करने के दौरान कई चिकित्साकर्मी भी इसकी चपेट में आ गए हैं, जिन्हें बेहतर इलाज के लिए दिल्ली के सफदरजंग अस्पताल भेजा गया है.