Google ने बिहार की मधुमिता को दिया 1 करोड़ का सालाना पैकेज

Share Article

madhumita

बिहार की राजधानी पटना के एक छोटे से कस्बे की रहने वाली बेटी मधुमिता ने अपने कस्बे और राज्य का नाम रोशन किया है. जी हां, अरवल जिले के वंशी प्रखंड के सोनभद्र गांव की बेटी मधुमिता ने दुनिया की जानी-मानी कंपनियों में से एक गूगल में एक करोड़ की सालाना पैकेज की नौकरी मिली है.

बता दें कि मधुमिता रविवार की सुबह नई दिल्ली से स्विटजरलैंड के लिए रवाना हो गई. मधुमिता की बात करें तो वह सोनपुर में पदस्थापित आरपीएफ के सहायक कमांडेंट कुमार सुरेंद्र शर्मा की दूसरी पुत्री है.

मधुमिता ने बताया कि उसकी प्रारम्भिक शिक्षा खगौल स्थित वाल्मी डीएवी से हुई थी. इसके बाद आर्य कॉलेज ऑफ इंजीनियरिंग, जयपुर से कंप्यूटर साइंस में बीटेक करने के बाद एपीजी बेंगलुरू में प्लेसमेंट हुआ. शुरुआत में मधुमिता आईएएस बनना चाहती थी लेकिन उन्होंने इंजीनियरिंग में अपना करियर बनाया और इसमें खुद को साबित किया.

ये भी पढ़ें: ध्यान दें: 7 से 11 मई के बीच रेलवे ने रद्द की करीब 10 ट्रेन, ये हैं वो रद्द ट्रेन लिस्ट

गूगल ने मेधाविता को सम्मान देते हुए उसे एक करोड़ सालाना के पैकेज पर टेकनिकल सॉल्यूशन इंजीनियर के पद पर स्विट्जरलैंड में पदस्थापित किया है. अपनी सफलता पर गौरवान्वित होते हुए मधुमिता कहती है कि बचपन से गुगल जैसी बड़ी कंपनी में काम करने का सपना देखती रही थी, वह सपना आज साकार हो गया.

सामान्य परिवेश में रहने और उसी में शिक्षा ग्रहण करने के दौरान जब कभी भी वह बड़े सपने की बात अपने दोस्तों से करती थी तो उसे कई मित्र यह कहकर हतोत्साहित करते थे कि बड़े सपना देखना उसके जैसी लड़कियों के वश की बात नहीं है. लेकिन वह नकारात्मक बातों से हतोत्साहित हुए बगैर लगातार अपनी जिद पर कायम रही. उसका निशाना हमेशा लक्ष्य पर रहा शिखर पर पहुंचने की मन में तमन्ना लिए वह दिन रात कड़ी मेहनत कर मर्सिडीज, अमेजन जैसी बड़ी कंपनियों में पिछले कुछ वर्षों से काम करती रही.

You May also Like

Share Article

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *