आर्थिक

अब Google इंडिया को विज्ञापन के आय पर देना होगा TAX

google-advertising-income-t
Share Article

google-advertising-income-t

दुनिया में सबसे ज्यादा इस्तेमाल किये जाने वाला गूगल इंडिया को एक जोरदार झटका लगा है. अब गूगल इंडिया को भी टैक्स का भरपाया करना होगा. जी हां, आयकर अपीलीय न्यायाधिकरण (आईटीएटी) ने कंपनी की विज्ञापन आय को गूगल आयरलैंड लिमिटेड को भेजने के मामले में टैक्स की मांग को आयकर विभाग के नोटिस को सही करार दिया है.

बता दें कि आईटीएटी की बेंगलुरू पीठ ने ने 331 पृष्ठ के आदेश में कर विभाग की इस दलील को बरकरार रखा कि इस प्रकार का भुगतान रायल्टी है और इसीलिए इस पर विदहोल्डिंग टैक्स (स्रोत पर कर कटौती) का मामला बनता है.

गूगल इंडिया ने कहा कि वह इस व्यवस्था को उच्च न्यायालय में चुनौती देगी. कंपनी ने गूगल आयरलैंड लिमिटेड को किए गए भुगतान के वर्गीकरण को लेकर आईटीएटी के पास अपील दायर की थी.

ये भी पढ़ें: सावधान! बर्गर किंग के बर्गर में प्लास्टिक, खाने के बाद गले में हुआ घाव

गूगल इंडिया का दावा है कि वह भारत में विज्ञापनदाताओं को गूगल एडवड्र्स कार्यक्रम की सामान्य वितरक/ पुनविक्रीकर्ता है. इसमें उसे वितरण के काम के लिए मिलने, वाला शुल्क किसी अधिकार के हस्तांतरण या किसी पेटेंट या नवप्रवर्तन के प्रयोग के अधिकार का सौदे का भुतान नहीं है इसलिए इस पर रायल्टी की तरह कर नहीं लगाया जा सकता.

कर विभाग ने पाया कि आकलन वर्ष 2012-13 के लिए स्रोत पर कर कटौती किए बिना 1,114.91 करोड़ रुपए गूगल आयरलैंड लिमिटेड को स्थानांतरित किए गए. इसके आधार पर विभाग ने 258.84 करोड़ रुपए के कर मांग का नोटिस दिया.

गूगल के प्रवक्ता ने कहा, ‘‘हम भारत में सभी कर कानून का अनुपालन करते हैं और हर कर का भुगतान करते हैं. ऐसे में हम इस आदेश के खिलाफ अपील दायर करेंगे.

Sorry! The Author has not filled his profile.
×
Sorry! The Author has not filled his profile.

You May also Like

Share Article

Comment here