छोटे कपड़ों में सूफी गाना गाने पर सोना महापात्रा को मिली धमकियां, लगाई मदद की गुहार

Sona-Mohapatra

मशहूर सिंगर सोना मोहपात्रा ने हाल ही में सोशल मीडिया पर खुद को पुलिस से सुरक्षा की गुहार लगाई है. जी हां, एक संगठन ने सोना को धमकी दी है. संगठन को सोना के छोटे कपड़े में गाना गाने पर आपत्ति है. ऐसे में सोमवार को सोना मोहपात्रा ने अपने ट्विटर पर कई ट्वीट्स पर बताया है कि मदारिया सूफी फाउंडेशन द्वारा धमकिया मिल रही हैं. इसके साथ ही उन्‍होंने अपने नजदीकी पुलिस स्‍टेशन में शिकायत भी कर दी है.

दरअसल सोना मोहपात्रा का कहना है कि मदारिया सूफी फाउंडेशन ने उन्‍हें एक नोटिस भेजा है और धमकियां दी है कि वह अपना नया वीडियो सभी जगह से हटा लें, क्‍यों वह सूफी फॉर्मेट के हिसाब से सही नहीं है. सोना के अनुसार इस फाउंडेशन को इस बात से एतराज है कि वह अपने इस वीडियो में सूफी गानें में ‘स्‍लीवलैस ड्रेस और शरीर दिखाने वाली डांसर्स’ के साथ नजर आ रही हैं.

वही सोना मोहपात्रा ने अपने ट्वीट में लिखा, ‘मुंबई पुलिस, द मदारिया फाउंडेशन द्वारा भेजे गए नोटिस में दावा किया गया है कि वह सूफी, शांति और वैश्विक भाईचारे के लिए काम करते हैं. मैं आपसे और भारत से यह पूछना चाहती हूं, ‘सिस्‍टरहुड’ (बहनचारा) का क्‍या? आखिर यह जरूरी क्‍यों हैं कि इस समय में महिलाएं ढकी हुई रहें और पब्लिक में डांस और संगीत न गाएं.’

ये भी पढ़ें: कास्टिंग काउच पर बोली ड्रामा क्वीन राखी सावंत, मचा रहा है बवाल

बता दें कि हाल ही में सोना मोहपात्रा का लाल परी मस्तानी एल्बम से ‘तोरी सूरत’ गाना रिलीज किया है. यह सूफी गाना अमरी खुसरो ने निजामुद्दीन औलिया के लिए लिखा था.

सोना मोहपात्रा की इस शिकायत के बाद मुंबई पुलिस ने उन्‍हें अपना पर्सनल नंबर देने की बात कहते हुए मदद की है. सोना ने इस विषय में मुंबई पुलिस को लिखित शिकायत दे दी है, लेकिन उन्‍होंने इसपर एफआईआर दर्ज नहीं कराई है.

वहीं दूसरी तरफ इस फाउंडेशन का अरोप है कि सोना कोई पीड़‍ति नहीं है, बल्कि अपराधी हैं क्‍योंकि उन्‍होंने सूफी कला को प्रस्‍तुत करने के उनके निर्धारित नियमों को तोड़ा है. इसलिए इस गाने को सभी जगह से हटा देना चाहिए.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *