गर्मी में पैरों के बदबू से छुटकारा पाना है तो अपनाएं ये तरीका

feet-smell

चिलचिलाती गर्मी के मौसम में सभी को पसीने आते हैं. ऐसे में कुछ लोगों के पैरों से काफी ज्यादा बदबू आती है. इस वजह से कई जगहों पर उनकों शर्मिंदा होना पड़ जाता है. शरीर से आने वाली बदबू से छुटकारा पाने के लिए काफी सारे बॉडी परफ्यूम और डिओडरेंट उपलब्ध हैं लेकिन पैरों से आने वाली बदबू को दूर करने के प्रोडक्ट बहुत कम हैं.

गर्मी के मौसम में पैरों के बदबू से परेशान लोग रोजाना साफ सुथरे मौजे, जूतों की लगातार सफाई करते है लेकिन जूता उतारते ही बदबू आती है. ऐसा इसलिए होता है क्योंकि, पैरों का पसीना सूख नहीं पाता है. जब ये पसीना बैक्टीरिया के सम्पर्क में आता है तो पैरों से बदबू आने लगती है. पैरों में आने वाली इस बदबू को ब्रोमिहाइड्रोसिस कहते हैं. इस समस्या का समाधान आप घर बैठे-बैठे ही आसानी से कर सकते हैं.

बेकिंग सोडा – बेकिंग सोडा पसीने के pH लेवल को न्यूनतम रखता है. इसकी मदद से बैक्टीरिया को नियंत्रित रखा जा सकता है. जी हां, बेकिंग सोडा पैरों से आने वाली बदबू को दूर करने का एक कारगर उपाय है.
ऐसे करें इस्तेमाल- इसके लिए आप थोड़े से गुनगुने पानी में बेकिंग सोडा घोल लें. इस घोल में बीस मिनट तक पैर डुबोये रखें. ऐसा आप दो तीन दिन में एक बार जरूर करें. थोड़े ही दिन में पैरों की बदबू में फर्क मिलेगा.

लैवेंडर ऑयल – लैवेंडर ऑयल से न सिर्फ अच्छी खुशबू आती है बल्कि यह बैक्टीरिया को खत्म करने में भी काम आता है. इस तेल में एंटी फंगल गुण होते हैं, जिससे पैरों की बदबू कम हो जाती है.
ऐसे करें इस्तेमाल- हल्के गर्म पानी में लैवेंडर ऑयल की कुछ बूंदे डालकर पैर डुबो कर बैठ जाएं. सप्ताह में तीन बार ऐसा करें.

फिटकरी – फिटकरी में एंटी-सेप्ट‍िक गुण मौजूद होते हैं जिनकी वजह से बैक्टीरिया दूर किया जा सकता है.
ऐसे करें इस्तेमाल- थोड़े से पानी में एक चम्मच फिटकरी डालें. अब इस पानी से पैर धोएं.

ब्लैक टी – ब्लैक टी में टैनिक एसिड होता है. जिससे पैरों में बदबू फैलाने वाले बैक्टीरिया को आसानी से खत्म किया जा सकता है.
ऐसे करें इस्तेमाल – थोड़े से गर्म पानी में चार-पांच ब्लैक टी बैग्स डाल दें. दस मिनट में बैग्स निकाल कर अलग रख दें. इस पानी में पैरो को कम से कम 20 मिनट तक रहने दें.

You May also Like

Share Article

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *