अंतरिक्ष में दबदबा बनाने के लिए स्पेस फोर्स का गठन करेगा अमेरिका


जल-थल और नभ में अपनी ताकत स्थापित करने के बाद अमेरिका अब अंतरिक्ष में अपना दबदबा कायम करने के बारे में सोच रहा है. इसके लिए वो अंतरिक्ष में अपनी सेना तैनात करेगा, जिसे लेकर राष्ट्रपति ट्रम्प ने आदेश जारी कर दिया है. राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प ने पेंटागन को जारी किए गए अपने आदेश में कहा है कि स्पेस फोर्स के लिए तैयारियां शुरू की जाय. ट्रम्प के मुताबिक, यह फैसला अमेरिका की निजी सुरक्षा को देखते हुए लिया गया है. अगर अमेरिका स्पेस फोर्स बनाने में कामयाब होता है, तो वो ऐसा पहला देश होगा, जो अंतरक्षि में अपनी सेना तैनात करेगा.

राष्ट्रीय अंतरिक्ष परिषद में डोनाल्ड ट्रम्प ने कहा है कि अमेरिका की रक्षा को लेकर केवल अंतरिक्ष में हमारी मौजूदगी ही काफी नहीं है, अंतरिक्ष में भी अमेरिका का दबदबा होना चाहिए. इसलिए मैंने पेंटागन को स्पेस फोर्स तैयार करने का आदेश दिया है. उन्होंने यह भी कहा कि पूरी दुनिया की नजरें हम पर हैं और अमेरिका फिर से सम्मानित हो रहा है. स्पेस फोर्स की योजना से न सिर्फ रोजगार मिलेगा, बल्कि देश के नागरिकों का हौसला भी बढ़ेगा. स्पेस फोर्स अमेरिका की एयरफोर्स से थोड़ा अलग होगा.

भविष्य की आशंकाओं के मद्देनजर, अमेरिका इस फोर्स के साथ अंतरिक्ष में लड़ी जाने वाली किसी भी लड़ाई के लिए खुद को तैयार करेगा. इस स्पेस फोर्स का इस्तेमाल स्पेस ऑपरेशन में निगरानी के लिए किया जा सकता है. गौरतलब है कि अमेरिका के पास मौजूदा वक्त में यूएस आर्मी, एयरफोर्स, मरीन, नेवी और कोस्ट गार्ड हैं. स्पेस फोर्स अमेरिकी सेना की छठवीं शाखा होगी. अमेरिकी राष्ट्रपति पहले भी ऐसी सेना बनाने पर जोर देते रहे हैं.