अब दाती महाराज का होगा पोटेंसी टेस्ट, बोले मैं संबंध बनाने लायक नहीं

daati-maharaj-has-to-face-potency

दुष्कर्म के आरोपी दाती महाराज से दिल्ली पुलिस की क्राइम ब्रांच ने शुक्रवार को दोबारा पूछताछ की। करीब 11 घंटे के दौरान उससे 250 से ज्यादा सवाल पूछे गए। पुलिस के सवालों पर दाती महाराज बुरी तरह टूट गया और फूट-फूटकर रो पड़ा। दुष्कर्म के आरोप को नकारते हुए उसने कहा कि आरोप लगाने वाली उसकी बेटी के समान है। उससे वह दुष्कर्म के बारे में सोच ही नहीं सकता। उसने बताया कि वह यौन संबंध बनाने के योग्य नहीं है। उसके जवाबों से पुलिस संतुष्ट नहीं दिखी।

सूत्रों के मुताबिक पुलिस उसका पोटेंसी (पुरुषत्व) टेस्ट करा सकती है। दोबारा जांच में शामिल होने के लिए दाती महाराज को मंगलवार को बुलाया गया है। पूछताछ की पूरी प्रक्रिया की वीडियोग्राफी कराई गई। इस दौरान उसने पुलिस की ओर से दिया हुआ कुछ भी नहीं खाया, साथ लाया पानी ही पीया। दाती महाराज शुक्रवार सुबह 9.30 बजे क्राइम ब्रांच के कार्यालय में पहुंचा था। उसके साथ उसका वकील और चार अन्य लोग थे। उसे पहली मंजिल पर बने एक कमरे में ले जाया गया

ज्वाइंट सीपी आलोक कुमार, डीसीपी राजेश देव, एसीपी जसबीर सिंह और इंस्पेक्टर रितेश कुमार सहित 20 पुलिसकर्मी मौजूद थे। सभी ने उससे पूछताछ की। सवाल पहले ही तैयार कर लिए गए थे। दाती महाराज व उसके भाइयों के बयानों में पुलिस को विरोधाभास नजर आ रहा है। पुलिस के मुताबिक मामले में कई सबूत जुटाए जा चुके हैं। पूछताछ कर उनकी पुष्टि जरूरी है।

सूत्रों के मुताबिक जब दाती महाराज से शिष्या से दुष्कर्म करने के संबंध में सवाल पूछे गए तो वह फफक पड़ा और इस आरोप को सिरे से नकार दिया। उसने कहा कि वह योग द्वारा यौन चेतना को खत्म कर चुका है। इस वजह से वह यौन संबंध नहीं बना सकता है। उसकी शादी भी बचपन में कर दी गई थी। वहीं, कुछ समय कई सवालों के जवाब उसने हंसते हुए भी दिए। उसने कहा कि युवती बहकावे में आकर उसके ऊपर गलत आरोप लगा रही है। रुपये के लेनदेन को लेकर चल रहे विवाद में उसकी शिष्या को हथियार बनाया जा रहा है। पुलिस अधिकारियों का कहना है कि मामला संवेदनशील और पेचीदा है। सभी पहलुओं को ध्यान में रखते हुए छानबीन की जा रही है।मंगलवार को दाती महाराज को फिर पूछताछ के लिए बुलाया गया है।