क्राइम

गोपालगंज में कबाड़ी की दुकान से मिलीं मैट्रिक परीक्षा की कापियां

gopalganj bihar matric examination copies
Share Article

gopalganj bihar matric examination copies

बिहार के गोपालगंज के एसएस बालिका प्लस टू स्कूल के स्ट्रांग रूम से बिहार बोर्ड मैट्रिक परीक्षा की कॉपियां गायब होने के मामले में पुलिस को बड़ी सफलता मिली है. पुलिस ने शनिवार को छापेमारी कर गायब कॉपियों को बरामद किया है. पुलिस ने ये कॉपियां शहर के एक कबाड़ी की दुकान से बरामद किया है. प्रारंभिक दौर में यह जानकारी मिल रही है कि हिरासत में लिये गये कबाड़ी दुकानदार आदेशपाल छठू सिंह के संलिप्ता की बात कही है. कबाड़ी दुकानदार के मुताबिक छठू सिंह ने फोन पर कॉपियां बेचने का सौदा तया हुआ था. पूरी कॉपियों का सौदा मात्र 8,500 रुपये में तय हुआ था. रात में ऑटो से कॉपियां दुकान पर लाई गयी थी. इस मामले में अॉटोचालक संतोष कुमार और कबाड़ी वाला पप्पू गुप्ता को गिरफ्तार कर लिया है.

गायब कॉपी मामले की शुक्रवार को पटना हाईकोर्ट में सुनवाई की गयी थी. मुख्य न्यायाधीश की अध्यक्षता वाली खंडपीठ ने इस मामले में राज्य सरकार से चार सप्ताह में जवाब मांगा है. अदालत ने राज्य सरकार को निर्देश दिया कि अगली सुनवाई को इस मामले की पूरी जानकारी शपथ पत्र के माध्यम से अदालत को दी जाये. साथ ही यह भी बताया जाये कि इस मामले में क्या-क्या कर्रवाई की गयी है.

मामले में एसआईटी की टीम ने पुलिस अधिकारियों के साथ स्कूल परिसर को खंगाला था. इस दौरान पुलिस को स्कूल कैंपस की झाड़ियों से कॉपियों का 200 खाली बैग मिले थे. इसके बाद अधिकारियों ने शिक्षकों से दोबारा पूछताछ शुरू की थी. विदित हो कि इस मामले में बुधवार को एसआईटी बुधवार की सुबह गोपालगंज पहुंची थी. एसआईटी गायब कॉपियों के तलाश में एसएस बालिका इंटर स्कूल के प्राचार्य प्रमोद कुमार श्रीवास्तव को साथ लेकर पहुंची थी.

मामला उजागर होने के बाद मंगलवार को एसएस बालिका प्लस टू स्कूल के प्राचार्य प्रमोद कुमार श्रीवास्तव BSEB के समक्ष पेश हुए थे. जहां, बीएसईबी के पदाधिकारियों उनसे करीब दो घंटे पूछताछ की. पूछताछ में संतोषजनक उत्तर नहीं मिलने पर पटना पुलिस ने उन्हें गिरफ्तार कर लिया था. कॉपियां गायब होने की सूचना के बाद बोर्ड और शिक्षा विभाग में हड़कंप मच गया था. स्कूल के स्ट्रांग रूम की सील टूटी नहीं, लेकिन उसमें रखी मैट्रिक परीक्षा 2018 की मूल्यांकित 42400 कॉपियां गायब हैं. गत शनिवार को 12 कॉपियों के गायब होने की जानकारी पर जब जांच शुरू हुई, तो यह खुलासा हुआ. प्राचार्य ने नवादा जिले से जांच के लिए आयी इन 42400 कॉपियों के गायब होने की प्राथमिकी दर्ज करायी है. सबसे अधिक कॉपियां विज्ञान की हैं.

Sorry! The Author has not filled his profile.
×
Sorry! The Author has not filled his profile.

You May also Like

Share Article

Comment here