मंदसौर आंदोलन की बरसी पर बोले राहुल, कांग्रेस आई तो 10 दिन में न्याय होगा


मंदसौर गोलीकांड की पहली बरसी पर राहुल गांधी ने बुधवार को मध्य प्रदेश के खोखरा गांव का दौरा कियाा. उन्होंने गोली कांड में मोर गए लोगों के परिजनों से मुलाकात की. राहुल करीब करीब 10 मिनट उन लोगों के साथ रहे और उन्हें न्याय का भरोसा दिलाया. उन्होंने कहा कि मोदीजी ने किसानों के साथ धोखा किया है. किसानों को फसलों की सही कीमत देने का वादा किया गया था, लेकिन कुछ नहीं हुआ. राहुल गांधी ने कहा कि मध्य प्रदेश में अगर हमारी सरकार आई, तो हम 10 दिन में किसानों का कर्जा माफ करेंगे. किसानों की आत्महत्या के मुद्दे पर भी राहुल ने केंद्र सरकार को कठघरे में खड़ा किया.

राहुल गांधी ने कहा कि मध्य प्रदेश में 1200 किसानों ने आत्महत्या की है. एनपीए को लेक भी उन्होंने सरकार पर हमला बोला. उन्होंने कहा कि क्या उन लोगों के परिवारों में किसी ने आत्महत्या की, जिन उद्योगपतियों ने लोन लेकर नहीं चुकाया? लोन लेकर भागने वालों पर कार्रवाई न करने को लेकर भी राहुल ने सरकार पर निशाना साधा. उन्होंने कहा, ना सजा होगी ना कार्रवाई होगी 30 हजार करोड़ नीरव मोदी की जेब में जाएंगे. नरेंद्र मोदी मेहुल चौकसी को मेहुल भाई और नीरव मोदी को नीरव भाई कहते हैं. नीरव भाई और मेहुल भाई को मोदी जी ने 30 हजार करोड़ रुपया दिया. इतने रुपए के साथ आप मध्य प्रदेश के हर किसान का दो बार कर्ज माफ कर सकते हो.

गौरतलब है कि पिछले साल आज ही के दिन मंदसौर के पिपलियामंडी स्थित बही पार्श्वनाथ चौपाटी से किसान आंदोलन की आग भड़की थी. इसी आंदोलन के दौरान पुलिस की गोली लगने से 6 किसानों की मौत हो गई थी. इस घटना की बरसी पर इस बार गृह मंत्रालय ने 1 जून से ही मंदसौर को हाई अलर्ट जोन में रखा है. इस बार किसानों ने 10 दिनी आंदोलन की घोषणा की है. 1 जून से जारी, 10 जून तक चलने वाले इस किसान आंदोलन के बीच कई किसान संगठनों की सभाएं भी होनी हैं.